;
न्यूज़

ऋषभ पन्त मैच के दौरान क्यों अक्षर पटेल को बुला रहे थे ‘वसीम भाई’? अक्षर ने खोजा राज

भारत और इंग्लैंड के बीच 4 टेस्ट मैचों की सीरीज खेली जा रही हैं. सीरीज में पहले टीम मैचों के बाद मेजबान भारत ने 2-1 से बढ़त बना ली हैं. अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में टीम इंडिया की 10 विकेट की धमाकेदार जीत के बाद भारत ने सीरीज में बढ़त बना ली हैं जबकि सीरीज का अंतिम मुकाबला अभी खेला जाना बाकि हैं.
May be an image of 1 person, standing and playing a sport
तीसरा टेस्ट में स्पिनरों का बोलबोला रहा और महज 2 दिन में ही नतीजा निकल गया. दोनों टीमों की ओर से स्पिनरों ने दमदार खिलाड़ियों और 30 में 28 विकेट तेज गेंदबाजों में झटके.

मैच के दौरान भारतीय विकेटकीपर ऋषभ पन्त इंडियन स्पिनर अक्षर पटेल को बार-बार ‘वसीम भाई’ कहकर बुला रहे हैं, जिसके सुनकर सभी काफी हैरान थे. क्योंकि टीम में कोई भी वसीम नाम का क्रिकेटर नहीं हैं. मैच के बाद मुरली कार्तिक ने मैन ऑफ द मैच अक्षर पटेल से जब इसके बारे में पूछा तो उन्होंने ‘वसीम भाई’ का राज खोला.

पोस्ट मैच प्रेजेंटेशन में अक्षर पटेल ने बताया, “मुझे वे वसीम भाई कह रहे थे क्योंकि उन्हें लगता हैं कि मेरी आर्म बॉल वसीम(अकरम) की तरह काफी घातक हैं. अज्जू भाई(अजिंक्य रहाणे) ने सबसे पहले मुझे इस नाम से बुलाया और ऋषभ पन्त फिर बार-बार कहना शुरू कर दिया.”

;

मैच का हाल
May be an image of 2 people, people playing sports and text
मैच में इंग्लैंड ने पहले खेलते हुए पहली पारी में जैक क्रॉली 53 रनों की मदद से 112 रन बनाए थे. भारत की ओर से अक्षर पटेल ने पहली पारी में सिर्फ 38 रन देकर 6 विकेट झटके थे जबकि अश्विन को 3 विकेट मिले थे.

;

जवाब में इंडियन सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा ने 66 रनों की दमदार पारी खेली लेकिन अन्य किसी भी खिलाड़ी ने उनका साथ नहीं दिया और भारत की टीम भी महज 145 रनों पर ढेर हो गई. इंग्लैंड की ओर से जो रूट ने सिर्फ 8 रन देकर 5 विकेट झटके.

;

पहली पारी में 33 रनों से पिछड़ने के बाद इंग्लैंड की टीम दूसरी पारी में भी महज 81 रनों पर ढेर हो गई और इस बार भी अक्षर पटेल ने 5 खिलाड़ियों को आउट किया. भारत को चौथी पारी में सिर्फ 49 रनों का लक्ष्य मिला. जोकि टीम इंडिया के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा और शुभमन गिल ने बिना कोई विकेट खो मैच जीता दिया.

;

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *