इन 3 टीमों के पास है इतिहास दोहराने का अवसर, कौन ले जायेगा टी20 वर्ल्ड कप ट्रॉफी

 
टी20 वर्ल्ड कप

T20 वर्ल्ड कप में सेमीफाइनल की चारों टीमें सिलेक्ट हो चुकी है। वही 9 और 10 नवंबर को सेमीफाइनल मुकाबले आयोजित होने वाले हैं। जिसके अंतर्गत 9 नवंबर को न्यूजीलैंड और पाकिस्तान के बीच सेमीफाइनल का पहला मुकाबला खेला जाएगा तो वहीं 10 नवंबर को इंग्लैंड तथा भारत के बीच सेमीफाइनल का दूसरा मुकाबला आयोजित होगा। वही इन चारों टीमों में से 3 टीमों के पास टी20 वर्ल्डकप का खिताब जीतकर इतिहास दोहराने का शानदार मौका है।

इस टीम ने किया सबसे पहले क्वालीफाई

न्यूजीलैंड की टीम ने इस टूर्नामेंट में सबसे पहले सेमीफाइनल के लिए क्वालीफाई किया। अपने पहले ही मैच में न्यूजीलैंड ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 90 रनों से जीत जीत दर्ज की थी। वहीं न्यूजीलैंड की ओर से इस पूरे टूर्नामेंट में डेवोन कन्वे ने शानदार प्रदर्शन किया। वहीं न्यूजीलैंड अभी तक एक बार भी T20 वर्ल्ड कप का खिताब नहीं जीत सकी।हालांकि इस बार न्यूजीलैंड T20 वर्ल्ड कप का चैंपियन बनने का भरपूर प्रयास करेगा।

इंग्लैंड के पास सुनहरा मौका

इस टूर्नामेंट की शुरुआत से पहले ही इंग्लैंड के इयोन मोरगन ने रिटायरमेंट ले लिया था। जिसके बाद अंग्रेज टीम का कप्तान जोश बटलर को बनाया गया। वही जोश बटलर की कप्तानी में इंग्लैंड टीम ने इस टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन किया। बता दें कि साल 2010 में इंग्लैंड ने अपना पहला T20 वर्ल्ड कप का खिताब जीता था।

किस्मत के सहारे सेमीफाइनल में पहुंची पाकिस्तानी टीम

सुपर 12 के अपने आखिरी मुकाबले में नीदरलैंड ने साउथ अफ्रीका को हराकर पाकिस्तान को सेमीफाइनल के लिए क्वालीफाई करा दिया था। ग्रुप स्टेज में पाकिस्तान की टीम पूरी तरह से फ्लॉप रही थी। जानकारी  के लिए बता दें कि साल 2009 में पाकिस्तान ने अपना एकमात्र टी-20 वर्ल्डकप का खिताब जीता था।

खिताब जीतने की प्रबल दावेदार है भारतीय टीम

भारतीय टीम इस टूर्नामेंट की शुरुआत से ही शानदार प्रदर्शन कर रही है। इस टूर्नामेंट में भारत ने अपने पहले मैच में पाकिस्तान को 4 विकेट से हराया था। इसके बाद टीम इंडिया ने नीदरलैंड्स , बांग्लादेश और जिंबाब्वे के खिलाफ जीत दर्ज करते हुए सेमीफाइनल में अपनी जगह बनाई। बता दें कि भारत अपने ग्रुप 2 में टॉप पर है। वहीं भारतीय टीम के पास विराट कोहली, रोहित शर्मा, सूर्यकुमार यादव और केएल राहुल जैसे कई घातक खिलाड़ी मौजूद है।

टी20 वर्ल्ड कप

वही फिनिशर की भूमिका निभाने के लिए हार्दिक पांड्या जैसे ऑलराउंडर भी टीम के पास मौजूद है। वही गेंदबाज़ी में भारतीय टीम में अर्शदीप सिंह स्टार बनाकर सामने आए हैं। वही अनुभवी गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार और मोहम्मद शमी ने भी इस टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन किया है। बता दे कि भारतीय टीम ने साल 2007 में अपना पहला T20 वर्ल्ड कप का खिताब जीता था। वही 15 साल बाद रोहित शर्मा की कप्तानी वाली भारतीय टीम वर्ल्ड कप 2022 का खिताब जीतने की प्रबल दावेदार मानी जा रही है।

इन तीन टीमों के पास है इतिहास दोहराने का सुनहरा अवसर

अभी तक केवल वेस्टइंडीज की टीम ने ही दो बार T20 वर्ल्ड कप का खिताब अपने नाम किया है।बता दे कि साल 2012 और 2016 में वेस्टइंडीज ने दो बार इस खिताब को अपने नाम किया था। वही सेमीफाइनल में पहुंचने वाली टीमें भारत, पाकिस्तान और इंग्लैंड ने केवल एक एक बार वर्ल्ड कप का खिताब जीता है। ऐसे में यदि इन टीमों में से कोई टीम इस बार वर्ल्ड कप का खिताब जीतती है तो वह इतिहास रचने में कामयाब होगी।