कब होगी बुमराह और जडेजा की वापसी? मैनेजमेंट को भी नहीं कोई खबर

 
बुमराह

दोस्तों भारतीय टीम के अगले मैच में श्रीलंका के खिलाफ होने वाले हैं जो कि 3 जनवरी से स्टार्ट होंगे। भारत और श्रीलंका के बीच तीन मैचों की टी-20 सीरीज और उसके बाद में तीन मैचों की वनडे सीरीज खेली जानी है। इस सीरीज से पहले भारतीय दर्शकों को इंतजार था कि रविंद्र जडेजा और जसप्रीत बुमराह फिर से मैदान पर कब लोटने वाले हैं तथा सब लोग यह उम्मीद लगाए बैठे थे कि यह वनडे की टीम में इन दोनों को मौका जरूर मिलेगा। लेकिन जैसे ही टीम का ऐलान हुआ सब लोग दुखी हो गए क्योंकि इन दोनों ही खिलाड़ियों को अभी भी टीम में जगह नहीं दी गई है।

दरअसल यह दोनों खिलाड़ी ही चोटिल हो गए थे और उसके बाद से ही भारतीय टीम का हिस्सा नहीं बन पा रहे हैं। जडेजा ने तो अपना आखिरी मैच एशिया कप में खेला था और बुमराह ने तो सितंबर माह में अपना आखिरी मैच ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला था। उसके बाद से ही इन दोनों की जो ठीक नहीं हो पाई है। वर्ल्ड कप में भी बुमराह के नही होने से भारतीय टीम को मुश्किलें हुई। हालांकि श्रीलंका के खिलाफ टीम के चयन से 1 दिन पहले इन दोनों को अपना फिटनेस टेस्ट करवाने के लिए बेंगलुरु स्थित अकैडमी में बुलाया गया था लेकिन चेतन शर्मा की अगुवाई वाली चयन समिति इनके फिटनेस से खुश नहीं हुई और इन्हें अभी और समय दिया जा रहा है।

दोनों ही खिलाड़ी भारतीय टीम के लिए काफी अहम

दरअसल भारतीय क्रिकेट की चयन समिति जसप्रीत बुमराह और रविंद्र जडेजा की फिटनेस को लेकर कोई भी जल्दबाजी नहीं जाती है क्योंकि यह दोनों ही खिलाड़ी भारतीय टीम के लिए काफी अहम खिलाड़ी है। अभी श्रीलंका के खिलाफ होने वाली सीरीज के बाद में भारतीय टीम को न्यूजीलैंड के खिलाफ भी तीन मैचों की वनडे सीरीज और उसके बाद में तीन मैचों की T20 सीरीज भी खेलनी है उसके बाद में भारतीय टीम को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चार मैचों की टेस्ट सीरीज खेलनी है जिसके लिए भारतीय टीम में जसप्रीत बुमराह और रविंद्र जडेजा का होना काफी जरूरी है तो चयन समिति कोई रिस्क नहीं ले सकती।

दरअसल ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ होने वाली चार मैचों की टेस्ट सीरीज में भारतीय टीम को 3-1 से जीतना ही होगा तभी भारतीय टीम वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल तक पहुंच पाएगी। अगर ऐसा नहीं होता है तो फिर भारतीय टीम का फाइनल में पहुंचना दूसरी टीमों के प्रदर्शन पर निर्भर करेगा। इसलिए भारतीय टीम में रविंद्र जडेजा जैसे शानदार ऑलराउंडर तथा जसप्रीत बुमराह जैसे गेंदबाज का होना जरूरी है इसलिए चयन समिति इन दोनों के लिए कोई जल्दबाजी नहीं कर रही है।