वनडे में उमरान मलिक ने तोड़ा 24 साल पुराना रिकॉर्ड

 
उमरान मलिक

दोस्तों 10 जनवरी को भारत और श्रीलंका के बीच वनडे सीरीज का पहला मैच खेला गया जिसमें भारतीय टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 373 रन का विशाल स्कोर बनाया। इसमें भारतीय बल्लेबाज विराट कोहली ने अपना 45 वा वनडे शतक भी लगाया। इतना बड़ा स्कोर बनाने के बाद भारतीय टीम की जीत लगभग तय ही हो गई थी। लेकिन फिर भी श्रीलंका की टीम ने अच्छा मुकाबला किया और यह मैच मात्र 67 रन से हारा।

इस मैच में भारतीय तेज गेंदबाज उमरान मलिक ने शानदार गेंदबाजी की और उनकी रफ्तार के सहारे उन्होंने 24 साल पुराना एक रिकॉर्ड तोड़ दिया। दरअसल भारतीय खिलाड़ियों में वनडे क्रिकेट में सबसे तेज गेंद फेंकने का रिकॉर्ड अभी तक जवागल श्रीनाथ के पास था। लेकिन श्रीलंका के खिलाफ हुए इस मैच में उमरान मलिक ने 155 किलोमीटर प्रति घंटा की स्पीड से गेंद फेंक कर यह रिकॉर्ड तोड़ कर अपने नाम कर लिया है।

उमरान मलिक ने 155 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से फेंकी गेंद 

जवागल श्रीनाथ पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज थे जिन्होंने 1999 में हुए वर्ल्ड कप में भारत की तरफ से सबसे तेज गेंद फेंकी थी जिसकी रफ्तार 154.5 किलोमीटर प्रति घंटा थी. लेकिन उमरान मलिक ने 155 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से गेंद फेंकी है और यह रिकॉर्ड अपने नाम किया। विश्व कप में सबसे तेज गेंद फेंकने के मामले में जवागल श्रीनाथ दूसरे नंबर पर आते हैं जबकि 155 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से विश्वकप में गेंद फेंकने वाले शोएब अख्तर पहले नंबर पर आते हैं।

उमरान मलिक भारतीय टीम के अभी तक के सबसे तेज गेंदबाज बन कर उभरे हैं और इतनी कम उम्र में ही उन्होंने शानदार गति पकड़ ली है। हालांकि उनकी इकोनामी रेट एक चिंता का विषय बनी हुई है। इसको सुधारने के लिए उन्हें अच्छी लाइन और लेंथ पर गेंदबाजी करनी होगी। T20 क्रिकेट में उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 156 किलोमीटर प्रति घंटा की स्पीड से गेंद फेंकी है और आईपीएल में उन्होंने 157 किलोमीटर प्रति घंटा की गति से गेंद फेंक कर इस लीग में सबसे तेज गेंद फेंकने वाले भारतीय खिलाड़ी बन गए हैं। अगर यह खिलाड़ी अपनी विकेट टेकिंग गेंदबाजी को सुधार लेता है तो फिर इसके जैसा गेंदबाज भारतीय टीम के लिए काफी फायदेमंद साबित होने वाला है।