सामने आ गया सेमीफाइनल में टीम इंडिया की हार का सबसे बड़ा कारण

 
 टीम इंडिया

T20 वर्ल्ड कप 2022 से भारतीय टीम बाहर हो चुकी है।बता दें कि इस बार भारतीय टीम की कमान रोहित शर्मा संभाल रहे थे। सभी भारतीय फैंस रोहित शर्मा से उम्मीद कर रहे थे कि वह महेंद्र सिंह धोनी की तरह T20 वर्ल्ड कप का खिताब जिताए। इस टूर्नामेंट के पहले मैच में जब टीम ने पाकिस्तान को हराया था तब उम्मीद और बढ़ गई थी कि भारतीय टीम इस बार T20 वर्ल्ड कप का खिताब जरूर जीतेगी।भारतीय टीम ने सुपर 12 के मैचों में शानदार प्रदर्शन करते हुए 5 मैचों में चार जीत करते हुए सेमीफाइनल में प्रवेश किया था एक समय पर ऐसा लग रहा था कि भारत इस खिताब से ज्यादा दूर नहीं है। परंतु सेमीफाइनल मुकाबले में इंग्लैंड ने भारत को बुरी तरह से हराया। हालांकि खेल में हार जीत का सिलसिला चलता रहता है। परंतु किसी ने नहीं सोचा था कि इस पूरे टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन करने वाली भारतीय टीम इस प्रकार 10 विकेट से हारेगी।

ओपनर्स रहे फेल

सेमीफाइनल में हार के बाद सब जगह भारतीय टीम की हार का प्रश्न उठने लगे। हालांकि जब टीम जीत रही थी उस समय टीम की कमियों के बारे में चर्चा नहीं हुई परंतु जैसे ही टीम सेमीफाइनल मुकाबला हारी वैसे ही टीम की कमियों पर खुलकर चर्चाएं होने लगी। भारतीय टीम ने इस टूर्नामेंट में अभी तक कुल 6 मुकाबले खेले जिसमें से सुपर 12 में 5 मेंच तथा एक मैच सेमीफाइनल में खेला गया था। इस टूर्नामेंट में पहले विकेट के लिए भारतीय टीम ने एक मैच में भी 50 रन की पार्टनरशिप नहीं की। आसान शब्दों में कहा जाए तो केएल राहुल और रोहित शर्मा दोनों ने मिलकर अभी तक 50 रन किसी भी मैच में नहीं जोड़ें तथा हर मैच में भारत का पहला विकेट पावर प्ले में ही गिर गया यही कारण है कि भारतीय टीम इस टूर्नामेंट में यहां तक आने के बाद बाहर हो गई।

टीम के सभी खिलाड़ियों को नहीं मिला मौका

टीम इंडिया की हार  की एक बड़ी वजह यह भी रही कि पिछले करीब 1 साल से जो खिलाड़ी अच्छा खेल रहे थे उन्हें इस बार टी-20 विश्व कप में मौका नहीं दिया गया। इस टीम में नामी और बड़े-बड़े खिलाड़ियों को ही वापसी करवाई गई थी। जो कि लगातार आराम फरमाने के बाद वर्ल्ड कप में नजर आए। वही टीम के सभी 15 सदस्यों को भी टीम में मौका नहीं दिया गया।