टीम इंडिया के इन खिलाडियों का टी20 करियर होगा खत्म, BCCI उठाएगा कड़े कदम

 
टीम इंडिया

दोस्तों भारतीय टीम का अगला मुकाबला श्रीलंका के साथ होने वाला है जिसमें भारत को तीन टी-20 मैचों की सीरीज भी खेलनी है। भारतीय चयनकर्ताओं ने इस सीरीज के लिए टीम की घोषणा भी कर दी है। यह टीम एकदम नई लग रही है जिसमें युवा खिलाड़ियों को मौका दिया गया है तथा अनुभवी और भारत के स्टार बल्लेबाजो तथा गेंदबाजों को टीम से बाहर रखा गया है। इस टीम से यह साफ होता नजर आ रहा है कि अब बीसीसीआई कई दिग्गज खिलाड़ियों को T20 टीम का हिस्सा नहीं मानती तथा नए खिलाड़ियों को मौका देना चाहती है।

काफी ऐसे खिलाड़ी है जिनको T20 में काफी मौके दिए गए लेकिन वह बार-बार अपने प्रदर्शन से चयनकर्ताओं को निराश कर रहे हैं इसलिए अब बीसीसीआई और चयनकर्ताओं के द्वारा कड़े फैसले लेकर इनको टीम से बाहर रखा जा रहा है। टी20 विश्व कप की बात करें तो भारत के ओपनर बल्लेबाज रोहित शर्मा और केएल राहुल ने कोई भी खास प्रदर्शन नहीं किया और भारत के लिए मुश्किल ही बनते हुए दिखाई दिए। श्रीलंका के खिलाफ T20 सीरीज में रोहित शर्मा और केएल राहुल दोनों को ही बाहर रखा गया है। उनकी जगह पर नए ओपनर खिलाड़ियों पर बीसीसीआई दांव खेल रही है।

विश्वकप में दिनेश कार्तिक का प्रदर्शन बिल्कुल बेकार 

अगले खिलाड़ी की बात करें तो यह नाम दिनेश कार्तिक का आता है जिन्होंने आईपीएल 2022 में शानदार फिनिशिंग रोल निभाते हुए रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु को काफी मैच जिताए थे। उसी की बदौलत दिनेश कार्तिक की भारतीय टीम में फिर से एंट्री हुई थी। लेकिन विश्वकप में दिनेश कार्तिक का प्रदर्शन बिल्कुल ही बेकार रहा इसलिए अब शायद ही वह टी-20 टीम में वापसी कर सकें।

टेस्ट क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन करने वाले विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत भारतीय क्रिकेट में एक बड़ा नाम है लेकिन जब बात वाइट बॉल क्रिकेट की आती है तब ऋषभ पंत एकदम फीके नजर आते हैं। पंत को टी-20 और वनडे टीम में काफी मौके दिए थे लेकिन वह एक भी मौके का फायदा नहीं उठा पाए। इसलिए शायद ऋषभ पंत को टी20 टीम से बाहर ही रखा जाएगा।

काफी साल बाद टेस्ट टीम के अलावा T20 टीम में हिस्सा बनने वाले रविचंद्रन अश्विन भी कुछ मैचों को छोड़कर खास प्रदर्शन नहीं कर पाए। वर्तमान समय में काफी ज्यादा अच्छे गेंदबाज भारतीय टीम का दरवाजा खटखटा रहे हैं इसलिए अब बीसीसीआई उन खिलाड़ियों को मौका देना चाहिए। T20 विश्व कप में विराट कोहली और भुवनेश्वर कुमार ने काफी अच्छा प्रदर्शन किया था। इसलिए इन दोनों का T20 टीम में होना भारत के लिए अच्छा साबित हुआ था। लेकिन जैसे प्रतिभाएं भारतीय टीम का दरवाजा खटखटा रही है उस हिसाब से अगर इन दोनों को भी भारतीय टीम में रहना है तो अपने प्रदर्शन को बरकरार रखना होगा।

अगला मुकाबला श्रीलंका के साथ

दोस्तों भारतीय टीम का अगला मुकाबला श्रीलंका के साथ होने वाला है जिसमें भारत को तीन टी-20 मैचों की सीरीज भी खेलनी है। भारतीय चयनकर्ताओं ने इस सीरीज के लिए टीम की घोषणा भी कर दी है। यह टीम एकदम नई लग रही है जिसमें युवा खिलाड़ियों को मौका दिया गया है तथा अनुभवी और भारत के स्टार बल्लेबाजो तथा गेंदबाजों को टीम से बाहर रखा गया है। इस टीम से यह साफ होता नजर आ रहा है कि अब बीसीसीआई कई दिग्गज खिलाड़ियों को T20 टीम का हिस्सा नहीं मानती तथा नए खिलाड़ियों को मौका देना चाहती है।

काफी ऐसे खिलाड़ी है जिनको T20 में काफी मौके दिए गए लेकिन वह बार-बार अपने प्रदर्शन से चयनकर्ताओं को निराश कर रहे हैं इसलिए अब बीसीसीआई और चयनकर्ताओं के द्वारा कड़े फैसले लेकर इनको टीम से बाहर रखा जा रहा है। टी20 विश्व कप की बात करें तो भारत के ओपनर बल्लेबाज रोहित शर्मा और केएल राहुल ने कोई भी खास प्रदर्शन नहीं किया और भारत के लिए मुश्किल ही बनते हुए दिखाई दिए। श्रीलंका के खिलाफ T20 सीरीज में रोहित शर्मा और केएल राहुल दोनों को ही बाहर रखा गया है। उनकी जगह पर नए ओपनर खिलाड़ियों पर बीसीसीआई दांव खेल रही है।

अगले खिलाड़ी की बात करें तो यह नाम दिनेश कार्तिक का आता है जिन्होंने आई पी एल 2022 में शानदार फिनिशिंग रोल निभाते हुए रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु को काफी मैच जिताए थे। उसी की बदौलत दिनेश कार्तिक की भारतीय टीम में फिर से एंट्री हुई थी। लेकिन विश्वकप में दिनेश कार्तिक का प्रदर्शन बिल्कुल ही बेकार रहा इसलिए अब शायद ही वह टी-20 टीम में वापसी कर सकें।

टेस्ट क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन करने वाले विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत भारतीय क्रिकेट में एक बड़ा नाम है लेकिन जब बात वाइट बॉल क्रिकेट की आती है तब ऋषभ पंत एकदम फीके नजर आते हैं। पंत को टी-20 और वनडे टीम में काफी मौके दिए थे लेकिन वह एक भी मौके का फायदा नहीं उठा पाए। इसलिए शायद ऋषभ पंत को टी20 टीम से बाहर ही रखा जाएगा।

काफी साल बाद टेस्ट टीम के अलावा T20 टीम में हिस्सा बनने वाले रविचंद्रन अश्विन भी कुछ मैचों को छोड़कर खास प्रदर्शन नहीं कर पाए। वर्तमान समय में काफी ज्यादा अच्छे गेंदबाज भारतीय टीम का दरवाजा खटखटा रहे हैं इसलिए अब बीसीसीआई उन खिलाड़ियों को मौका देना चाहिए। T20 विश्व कप में विराट कोहली और भुवनेश्वर कुमार ने काफी अच्छा प्रदर्शन किया था। इसलिए इन दोनों का T20 टीम में होना भारत के लिए अच्छा साबित हुआ था। लेकिन जैसे प्रतिभाएं भारतीय टीम का दरवाजा खटखटा रही है उस हिसाब से अगर इन दोनों को भी भारतीय टीम में रहना है तो अपने प्रदर्शन को बरकरार रखना होगा।