क्या भारतीय खिलाड़ियों को बिग बैश जैसी विदेशी लीग में खेलना चाहिए? राहुल द्रविड़ ने दिया जवाब

 
राहुल द्रविड़

T20 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल मुकाबले में भारतीय टीम को इंग्लैंड के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा। यह हर इतनी बड़ी थी कि हर कोई इसे सहन नहीं कर पा रहा है। बता दें कि इंग्लैंड के खिलाफ मैच में भारत को 10 विकेट से हार मिली थी। जिसके बाद कप्तानी, टीम मैनेजमेंट और गेंदबाजी सभी पर कई प्रश्न उठ रहे हैं।हाल ही में टीम इंडिया के कोच राहुल द्रविड़ ने मीडिया से बात की है।

राहुल द्रविड़ ने कहा यह हर निराशाजनक

भारतीय टीम के मुख्य कोच राहुल द्रविड़ ने कहा कि यह हार निराशाजनक थी। मैच में हमने काफी कोशिश की। परंतु हम जीत नहीं पाए। वही सेमीफाइनल मुकाबले में हमें 180 से अधिक रन बनाने चाहिए थे। शायद हम 15 से 20 रन पीछे रह गए। वही मैच में हार्दिक पांड्या ने शानदार खेला।। सेमीफाइनल मुकाबले में हार के बाद हमें कहीं चीजों पर चिंतन करके उन्हें सुधार करने की आवश्यकता है।


क्या विदेशी लीग में खेलना चाहिए

राहुल द्रविड़ से एक अंग्रेजी पत्रकार ने पूछा कि भारतीय खिलाड़ियों को यहां की परिस्थितियां समझने के लिए बिग बेस लीग में खेलना चाहिए? इस पर राहुल द्रविड़ ने कहा कि इसका फैसला बीसीसीआई को करना है।

बीसीसीआई को लेना है फैसला

जानकारी के लिए बता दें कि आईपीएल के अलावा भारतीय टीम दुनिया की किसी T20 लीग में नहीं खेलती है। हालांकि अन्य देशों के खिलाड़ी ऐसा नहीं करते हैं। इंग्लैंड को जीत दिलाने वाले एलेक्स हेल्स ऑस्ट्रेलिया की T20 लीग बिग बैश में खेलते हैं वहीं हैरिस रऊफ भी बिग बैश में काफी क्रिकेट खेल चुके हैं।सेमीफाइनल मुकाबले के बाद कोच राहुल द्रविड़ ने कहा कि विदेशी लीग में खेलने को लेकर बीसीसीआई को इसका फैसला करना है।

कोच राहुल द्रविड़ ने आगे कहा कि वर्ल्ड कप में खेल रहे कई खिलाड़ियों को ऑस्ट्रेलिया के मैदानों पर खेलने का अच्छा अनुभव है। हालांकि भारतीय खिलाड़ियों के लिए बीबीएल खेलना काफी मुश्किल है। क्योंकि उस समय भारत में घरेलू सीजन चल रहा होता है।