नुमेरोलॉजिस्ट संजय जुमानी ने बताई सूर्यकुमार यादव की अविश्वसनीय फॉर्म के पीछे की वजह

 
सूर्यकुमार

कभी आपने सोचा है कि सूर्यकुमार यादव यह सब कैसे कर लेते हैं, पूरी आसानी से बाउंड्री स्कोर कर लेते हैं, मैदान के उन हिस्सों तक पहुंच बना लेते हैं जो दूसरों के लिए संभव नहीं लगते। ऑफ स्टंप के बाहर कि गेंदों को भी लेग साइड पर शॉट मार देते है। लगातार और इतनी तेज गति से स्कोर कर रहे हैं कि दिग्गज सोच रहे हैं कि क्या वह सबसे महान भारतीय टी20 बल्लेबाज हैं?

आपके और मेरे जैसे सामान्य इंसानों को उनके अविश्वसनीय फॉर्म और उनके छोटे टी20  करियर में मिली सफलता को हाईलाइट करने के अलग-अलग तरीके मिलेंगे। 39 पारियों में 45 की औसत से 1395 रन और 2 शतकों और 12 अर्धशतकों के साथ 181 की स्ट्राइक रेट, काबिलियत तारीफ है।

सूर्यकुमार

फेसबुक पर एक लाख से ज्यादा फॉलोअर्स वाले जाने-माने एस्ट्रो-न्यूमेरोलॉजिस्ट संजय बी जुमानी ने सूर्यकुमार यादव के इस जबरदस्त फॉर्म के पीछे की वजह और फॉर्मूला को अपने तरीके से समझाने की कोशिश की है.

क्या लचीलापन, कितनी लंबाई भारतीय क्रिकेट के स्काई से मिलें! जिन्होंने माउंट माउंगानुई में 51 गेंदों पर नाबाद 111  रनों की पारी खेलकर न्यूजीलैंड के खिलाफ दूसरे टी20 अंतरराष्ट्रीय में भारत का स्कोर 6 विकेट पर 191 रन बनाने मै मदद की। 

सूर्या की ताकत पूरे समय उनके साथ रही है। उनका अब तक का बेस्ट फॉर्म और स्ट्राइक रेट रहा है। बल्लेबाज न केवल मैदान को पढ़ने में अच्छा है बल्कि गेंद को हिट करते समय उसकी संख्या भी आश्चर्यजनक होती है। 111 गेंदों में, 340 रन, और केवल छह बार आउट होने पर  56.66 की औसत और 306.30 की एक अविश्वसनीय रूप से  रेट दी।

युवराज ने 2007 में टी20 विश्व कप में चौथे या उससे नीचे नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए सबसे ज्यादा अर्धशतक जड़े थे। उन्होंने 2 बार 50+ का स्कोर बनाया था। जबकि SKY वर्तमान में दुनिया का नंबर 1 T20I बल्लेबाज है, जिसने 2022 में इस प्रारूप में 1151 रन बनाए हैं - इसमें  188.37 की स्ट्राइक रेट शामिल है, जिसमें दो शतक, नौ अर्द्धशतक और शानदार 67 छक्के शामिल हैं।