संजू सेमसन और उमरान मालिक को मौका न मिलने पर हार्दिक पांड्या ने दिया बड़ा बयान

 
संजू सेमसन

भारत न्यूजीलैंड के बीच खेले गए टी-20 सीरीज में भारत ने 1-0 से इस सीरीज को अपने नाम कर लिया है। बता दें कि इस मैच का पहला मुकाबला बारिश के कारण रद्द हो गया था तो वहीं तीसरे मैच में भी बारिश के कारण मैच को टाई कर दिया गया। इस सीरीज में कप्तान हार्दिक पांड्या ने शानदार प्रदर्शन किया। हालांकि इस सीरीज के दौरान उमरान मलिक और संजू सैमसन को एक मैच में भी मौका नहीं दिए जाने पर कई सवाल उठ रहे हैं। इस पर हार्दिक पांड्या ने बड़ा बयान दिया है।

फर्क नहीं पड़ता कौन क्या बोल रहा है

तीसरा मैच टाई होने के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में हार्दिक पांड्या ने कहा कि बाहर कौन क्या बोल रहा है इससे कोई फर्क नहीं पड़ता है। यह मेरी टीम है तथा मुझे और हेड कोच को जो ठीक लगेगा वह हम डिसाइड करेंगे। हम उसे ही टीम में खेलने का मौका देंगे हालांकि सभी को मौका मिलेगा यदि यह बड़ी सीरीज होती और ज्यादा मैच होते तो ज्यादा खिलाड़ियों को इस सीरीज में खेलने का मौका मिलता। हालांकि यह सीरीज छोटी थी तथा में ज्यादा बदलाव पर विश्वास नहीं करता हूं।

संजू सेमसन

दीपक हुड्डा का दिया उदाहरण

हार्दिक पांड्या ने दीपक हुड्डा का उदाहरण देते हुए बताया कि टीम प्रबंधन छटा गेंदबाजी विकल्प चाहता था। इसलिए उन्होंने दीपक हुड्डा को आजमाया वही स्पिनर ने दूसरे टी-20 मैच में 4 विकेट चटकाए तथा तीसरे मुकाबले में भी उन्होंने अच्छी गेंदबाजी की।

दीपक हुड्डा को गेंद थमा कर किया सबको सरप्राइस

कप्तान हार्दिक पांड्या ने बताया कि मुझे गेंदबाजी में छह विकल्प चाहिए थे जिसके लिए मैंने गेंद दीपक हुड्डा को दी। यदि थोड़ा-थोड़ा करके बल्ले बाज चिप करते रहेंगे तो आपके पास नए गेंदबाज उपयोग करने के बहुत सारे मौके होंगे। मैच के टाइ होने के बाद कप्तान ने कहा कि हम पूरे ओवर खेलकर यह मैच जीतना चाहते थे क्योंकि इस विकेट पर आक्रमण सबसे अच्छा  बचाव है। बता दे की हार्दिक पांड्या अभी इस सीरीज के बाद भारत लौटने वाले हैं क्योंकि वनडे सीरीज के लिए उन्हें आराम दिया गया है।