टीम इंडिया की हार के बाद गौतम गंभीर का बड़ा बयान, धोनी के लिए कह दी ये बात

 
टीम इंडिया

T20 वर्ल्ड कप 2022 के टूर्नामेंट में भारतीय टीम ने पाकिस्तान के खिलाफ जीत से इस टूर्नामेंट की शानदार शुरुआत की थी। हालांकि इस टूर्नामेंट की शुरुआत जितनी शानदार तरीके से हुई थी इसका अंत उतना ही शर्मनाक और दर्दनाक रहा। बता दे कि टीम को अपने सेमीफाइनल मुकाबले में इंग्लैंड के खिलाफ 10 विकेट से करारी हार मिली थी। इस हार के बाद भारतीय टीम पर कई प्रश्न उठ रहे हैं। ऐसे में सेमीफाइनल मुकाबले में हार के बाद पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर ने पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के बारे में बड़ा बयान दिया है।

गौतम गंभीर ने कहीं यह बड़ी बात

स्टार स्पोर्ट्स पर बात करते हुए पूर्व क्रिकेटर ने बताया कि कोई क्रिकेटर आएगा जो रोहित शर्मा के दोहरे शतक के रिकार्ड को तोड़ देगा और हो सकता है कि 100 शतक का रिकॉर्ड भी टूट जाए। विराट कोहली से भी कोई ज्यादा शतक लगा सकता है परंतु मुझे नहीं लगता कि महेंद्र सिंह धोनी के पास जो 3 आईसीसी की ट्रॉफी है। इस रिकॉर्ड को कोई तोड़ पाएगा, महेंद्र सिंह धोनी द्वारा किए इस बड़े कारनामे को कोई कप्तान नहीं दोहरा पाएगा। महेंद्र सिंह धोनी ने टी20 वर्ल्ड कप 2007 तथा 2011 वन डे का क्रिकेट वर्ल्ड कप और आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी तीनों ही खिताब अपनी कप्तानी में थे।

एमएस धोनी ने जीती टीम आईसीसी ट्रॉफी

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी अपनी करिश्माई कप्तानी के लिए पूरी दुनिया भर में मशहूर है। मैदान पर शांत दिमाग से खेलने वाले महेंद्र सिंह धोनी ने अपनी कप्तानी में भारतीय टीम को कई मैच जिताए हैं। एम एस धोनी की कप्तानी में भारतीय टीम ने दक्षिण अफ्रीका में T20 वर्ल्ड कप 2007, घर में 50 ओवर का 2011 का विश्व कप तथा इंग्लैंड की धरती पर 2013 की चैंपियंस ट्रॉफी भारत को दिलाई थी। महेंद्र सिंह धोनी के अलावा केवल कपिल देव ने साल 1983 के वर्ल्ड कप में भारत को जीत दिलाई थी।

2011 के वर्ल्ड कप में शामिल थे गंभीर

भारतीय टीम के पूर्व ओपनर गौतम गंभीर साल 2007 में हुए टी-20 वर्ल्ड कप और 2011 के वनडे वर्ल्ड कप में टीम इंडिया का हिस्सा थे। गौतम गंभीर ने साल 2011 के वनडे वर्ल्ड कप में श्रीलंका के खिलाफ फाइनल मैच में 97 रनों की अहम पारी खेली थी।