विराट कोहली को मैन ऑफ द सीरीज मिलने पर गंभीर का बड़ा बयान

 
विराट कोहली

हाल ही में हुई भारत और श्रीलंका के बीच तीन मैचों की वनडे सीरीज में विराट कोहली के शानदार परफॉर्मेंस की वजह से उन्हें मैन ऑफ द सीरीज का अवार्ड दिया गया। विराट कोहली ने इस सीरीज में दो शतकीय पारियां खेली थी जिस वजह से उन्हें यह अवार्ड मिला लेकिन। उनके इस अवार्ड से पूर्व भारतीय क्रिकेटर गौतम गंभीर इतने खुश नहीं है। क्योंकि गौतम गंभीर का मानना है कि विराट कोहली के साथ-साथ मोहम्मद सिराज को भी इस अवार्ड से नवाजा जाना चाहिए था। क्योंकि उन्होंने भी शानदार प्रदर्शन किया है।

भारत और श्रीलंका के बीच खेला गया तीसरा ओडीआई मैच काफी शानदार रहा भारत की तरफ से विराट कोहली ने खेलते हुए शानदार 110 गेंदों में 164 रन की पारी खेली और इस पारी में उन्होंने 13 चौके और 8 छक्के लगाए। तिरुवनंतपुरम के ग्रीनफील्ड इंटरनेशनल स्टेडियम में खेली गई विराट कोहली की यह पारी काफी आतिशी रही और इस वजह से भारत ने 390 रन का एक विशाल स्कोर खड़ा कर दिया। विराट कोहली ने पांचवीं बार 150 प्लस का रिकॉर्ड भी बना दिया।

मोहम्मद सिराज ने चटकाए 4 विकेट

इसके जवाब में उतरी श्रीलंका की टीम का सामना मोहम्मद सिराज से हुआ और इस भारतीय तेज गेंदबाज में शानदार प्रदर्शन करते हुए 10 ओवर में मात्र 32 रन देकर 4 विकेट हासिल किए और फील्डिंग में भी अद्भुत प्रदर्शन करते हुए 1 रन आउट किया और श्रीलंका की टीम को 73 रन के स्कोर पर ही ऑल आउट कर दिया। जिस वजह से भारतीय टीम यह मैच 317 रनों से जीत गई। इस पूरी सीरीज में मोहम्मद सिराज ने 9 विकेट अपने नाम किए जो कि 4.05 की इकोनामी से थे और उनका एवरेज 10.22 का रहा। मोहम्मद सिराज ने अपनी घातक गेंदबाजी से ही शुरुआती ओवर में भारत को काफी सफलताएं दिलाई। जिस वजह से श्रीलंका की टीम हर समय बैक फुट पर ही रही। इसलिए इस सीरीज को 3-0 से क्लीन स्वीप करने के पीछे मोहम्मद सिराज का भी बड़ा हाथ रहा है।

गौतम गंभीर का मानना है कि मोहम्मद सिराज भविष्य के गेंदबाज हैं और वह भारतीय टीम के लिए काफी शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं मोहम्मद सिराज एक ऐसे गेंदबाज है जो नई गेंद के साथ जितने कारगर साबित होते हैं डेथ ओवर्स में भी है उतनी ही सटीक गेंदबाजी करते हैं। इसलिए विराट कोहली के साथ मोहम्मद सिराज को भी मैन ऑफ द सीरीज का अवार्ड दिया जाना चाहिए था क्योंकि उन्होंने काफी शानदार गेंदबाजी की है। ऐसा मैदान जहां पर 370, 390 के स्कोर बन रहे हैं वहां पर मोहम्मद सिराज ने बल्लेबाजों को बल्लेबाजी नहीं करने दी ऐसा बहुत ही कम देखने को मिलता है।