बाबर आजम की बेवकूफी से WTC पॉइंट्स टेबल में बड़ा उलटफेर, भारत के लिए खुले फाइनल के दरवाजे

 
WTC

दोस्तों जिस तरह टी20 विश्वकप और वनडे विश्वकप होते हैं उसी तरह है आजकल टेस्ट क्रिकेट में भी वर्ल्ड कप होता है जिसे वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के नाम से जाना जाता है। साल पूरे साल में अपने प्रदर्शन के चलते वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में अपनी जगह बनाते हैं तथा यह खिताब अपने नाम करते हैं। पिछली बार बार टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में भारतीय टीम विराट कोहली की कप्तानी में पहुंची थी लेकिन यह खिताब जीत नहीं पाई। इस समय वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के प्वाइंट्स टेबल में काफी उलटफेर हो रहे हैं क्योंकि हर दिन कोई न कोई टेस्ट मैच चलता रहता है।

इस समय ऑस्ट्रेलिया और साउथ अफ्रीका के बीच टेस्ट सीरीज खेली जा रही है तथा दूसरी तरफ पाकिस्तान और न्यूजीलैंड के बीच भी दो मैचों की टेस्ट सीरीज खेली जा रही है। इन सभी के प्रदर्शन के आधार पर हर मैच के बाद पॉइंट्स टेबल में उलटफेर होता रहता है। हाल ही में पाकिस्तान और न्यूजीलैंड के बीच चल रहे टेस्ट मैच का कोई भी नतीजा नहीं निकल पाया इससे भारतीय टीम को काफी फायदा हुआ है आइए हम आपको बताते हैं कि कैसे भारत को फायदा हुआ और पाकिस्तान के कप्तान ने भारत की राह आसान कर दी।

पाकिस्तान और न्यूजीलैंड के बीच चल रहा टेस्ट मैच पांचवा दिन तक चला गया लेकिन फिर भी इस टेस्ट मैच का कोई भी परिणाम नहीं निकल पाया। पाकिस्तान में अंतिम दिन न्यूजीलैंड को जीतने के लिए 138 रन का लक्ष्य दिया और न्यूजीलैंड ने एक समय लगभग 7 ओवर में 61 रन बना लिए थे लेकिन अंधेरा होने की वजह से मैच को यहीं रोक देना पड़ा जिसकी वजह से इस टेस्ट मैच का कोई भी परिणाम नहीं निकल पाया। मैच के समय को लेकर दोनों टीमों के बीच विवाद भी चला था।

बाबर से हुई चूक

इस टेस्ट मैच की पहली पारी में पाकिस्तान में बल्लेबाजी करते हुए 438 रन बनाए थे जिसमें बाबर आजम ने 161 रन की कप्तानी पारी खेली थी लेकिन गेंदबाजी के समय बाबर आजम सही तरह से कप्तानी नहीं कर पाए और काफी ढीले दिखाई दिए। जिसके चलते हैं न्यूजीलैंड ने 612 रन बना डाले। न्यूजीलैंड की तरफ से सातवें विकेट के लिए 154 रन की साझेदारी पाकिस्तान को बहुत ही महंगी पड़ेगी और इसी पारी की बदौलत एक समय में लग रहा था कि पाकिस्तान यह मैच हार जाएगी। 438 रन बनाने के बाद पाकिस्तान को फ्रंट पोजिशन पर होकर मैच को जीतने के लिए काम करना था लेकिन दूसरी पारी के बाद में उन्होंने मैच को ड्रॉ कराने के लिए खेलना शुरू कर दिया।

प्वाइंट्स टेबल में हुआ बदलाव

WTC की टेबल में इस समय ऑस्ट्रेलिया टीम टॉप पर बनी हुई है। इस टीम ने अभी तक 10 टेस्ट मैच खेले हैं जिनमें से 78.57 प्रतिशत अंक प्राप्त करके सबसे ऊपर स्थान प्राप्त कर रखा है। दूसरे स्थान की बात करें तो दूसरे स्थान पर भारतीय टीम मौजूद है। ऑस्ट्रेलिया का वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल खेलना लगभग तय माना जा रहा है और अब अगर भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ होने वाली बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी में अच्छा प्रदर्शन करती है तो वह ऑस्ट्रेलिया के साथ ही फाइनल मैच खेलेगी। न्यूजीलैंड और पाकिस्तान के बीच हुए ड्रॉ मैच की वजह से दोनों टीमों को चार-चार अंक मिले और यहीं पर पाकिस्तान का WTC के फाइनल में जाना एक सपना बन गया। इस ड्रॉ से भारत की राह आसान हो गई। तीसरे स्थान पर श्रीलंका की टीम है तो चौथे स्थान पर दक्षिण अफ़्रीका और पांचवे स्थान पर इंग्लैंड कायम है। पाकिस्तान और न्यूजीलैंड क्रमशः सातवें और आठवें स्थान पर है।