BCCI अधिकारी ने बताया, टी20 टीम में फिर नहीं दिखेगा यह सीनियर खिलाडी

 
टीम

इंग्लैंड के खिलाफ एडिलेड में खेले गए सेमीफाइनल मुकाबले में भारतीय टीम को 10 विकेट से हार मिली थी। इस हार के साथ रोहित शर्मा की कप्तानी वाली भारतीय टीम वर्ल्ड कप से बाहर हो गई। वही इस टूर्नामेंट में कई खिलाड़ियों ने अपने प्रदर्शन से सभी को निराश किया। इस लिस्ट में एक सीनियर ऑफ स्पिनर खिलाड़ी भी शामिल है। इंग्लैंड के खिलाफ मैच में हार के बाद इस खिलाड़ी पर कई सवाल उठ रहे हैं।

भारत बनाम इंग्लैंड मैच

भारत ने अपना सेमीफाइनल मुकाबला एडिलेड के ओवल मैदान पर खेला था। मैच में ऐसा लग रहा था कि भारतीय टीम लड़ी ही नहीं। कई दिग्गजों ने  मैच के बाद टीम पर कई प्रश्न खड़े किए हैं। हार के बाद कई खिलाड़ियों की आलोचना भी हुई। मैच में टॉस हारकर भारतीय टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 6 विकेट के नुकसान पर 168 रन बनाए थे। भारतीय टीम की ओर से पूर्व कप्तान विराट कोहली और ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या ने शानदार प्रदर्शन करते हुए अर्धशतक जड़े थे। इस दौरान विराट ने 40 गेंदों पर 50 रन तथा हार्दिक पांड्या ने 33 गेंदों पर 63 रनों की आक्रामक पारी खेली थी। वही लक्ष्य को प्राप्त करने उतरी इंग्लैंड टीम ने बिना विकेट खोकर 16 ओवर में लक्ष्य हासिल कर लिया। इंग्लैंड की ओर से एलेक्स हेल्स ने 86 रन तथा जोश बटलर ने 80 रनों की पारी खेली।

बीसीसीआई ने की पुष्टि

इस वर्ल्ड कप टूर्नामेंट के बाद भारतीय टीम में आने वाले समय में कई बड़े बदलाव देखने को मिलेंगे। कुछ सीनियर खिलाड़ियों को भी टीम से बाहर किया जा सकता है। जिसमें स्पिनर रविचंद्रन अश्विन भी सम्मिलित है। बीसीसीआई के सूत्रों के द्वारा पीटीआई ने एक रिपोर्ट दी है जिसके अनुसार अश्विन ने इस टी 20 वर्ल्ड कप में अपना आखिरी मुकाबला खेल लिया है। बता दें कि अगला t20 विश्व कप लगभग 2 साल बाद है। ऐसे में हार्दिक पांड्या की कप्तानी में नई टीम तैयार होगी।

बीसीसीआई के एक सूत्र ने बताया कि बीसीसीआई कभी भी किसी खिलाड़ी को संयास लेने के लिए नहीं कहता है। संन्यास लेने का फैसला क्रिकेटर का अपना व्यक्तित्व फैसला रहता है। परंतु 2023 में होने वाले टी-20 मुकाबलों में कई सीनियर खिलाड़ी नहीं दिखाई देंगे। अब अधिकांश सीनियर खिलाड़ी टेस्ट और वनडे मैचों पर फोकस करेंगे।

अश्विन का क्रिकेट करियर

अश्विन ने अभी तक भारतीय टीम की ओर से 86 टेस्ट, 65 T20 और 113 वनडे मैच खेले हैं। वही उनके नाम वनडे में 151 विकेट, T20 इंटरनेशनल में 72 और टेस्ट क्रिकेट में 442 विकेट दर्ज हैं। फर्स्ट क्लास क्रिकेट में रविचंद्रन अश्विन कुल 684 विकेट अपने नाम कर चुके हैं।