टीम इंडिया में रोहित, विराट और राहुल के भविष्य को लेकर BCCI करने जा रहा बड़ा फैसला

 
टीम इंडिया

इंग्लैंड के खिलाफ सेमीफाइनल मैच में हार के बाद हर तरफ भारतीय टीम की आलोचना हो रही है। ऐसे में भारतीय टीम में कई बदलाव होने की भी खबर सामने रही है। सेमीफाइनल में हार के बाद रोहित शर्मा की कप्तानी पर कई प्रश्न उठ रहे हैं।जिसके बाद भारतीय क्रिकेट बोर्ड इस पर बड़ा फैसला करने जा रही है।

बीसीसीआई ने लिया यह फैसला

बीसीसीआई के एक अधिकारी ने बताया कि विराट कोहली और भारतीय कप्तान रोहित शर्मा के ऑस्ट्रेलिया से लौटने के बाद उनसे चर्चा करने के बाद कोच राहुल द्रविड़ बड़ा कदम उठाएंगे। इंडियन एक्सप्रेस को बीसीसीआई के एक अधिकारी ने बताया कि हम एक बैठक में टी-20 टीम के रोड मैप बातचीत करेंगे। हम कोई भी फैसला जल्दबाजी में नहीं लेना चाहते हैं।हम पहले खिलाड़ियों को अपनी बात रखने का मौका देंगे। जिसके बाद ही बीसीसीआई कोई फैसला करेगा।

भारतीय टीम में कई उम्र दराज खिलाड़ी शामिल

T20 वर्ल्ड कप 2022 के टूर्नामेंट में भारतीय टीम बेहद ही शर्मनाक तरीके से बाहर हुई। टी20 विश्व कप 2022 में भारतीय टीम की औसत आयु 30.6 थी। ज्यादातर खिलाड़ी 30 वर्ष से ज्यादा की उम्र के थे। इस टूर्नामेंट में भारतीय टीम की ओर से विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक सबसे उम्रदराज खिलाड़ी थे। बता दे कि दिनेश कार्तिक की उम्र 37 साल है। वही आर अश्विन 36, रोहित शर्मा 35, विराट कोहली 33, भुवनेश्वर कुमार 32 ओर सूर्यकुमार यादव 32 साल के थे।

जानकारी के लिए बता दें कि अगला t20 विश्व कप साल 2024 में यूएसए और वेस्टइंडीज में होगा। उम्मीद की जा रही है कि बीसीसीआई उम्र दराज प्लेयर्स को भारतीय टीम से बाहर कर सकती हैं।

राहुल द्रविड़ ने दिया यह जवाब

इंग्लैंड के खिलाफ हार के बाद जब भारतीय कोच राहुल द्रविड़ से ज्यादा उम्र वाले भारतीय खिलाड़ियों के बारे में सवाल किया गया कि क्या वह अगले t20 विश्व कप में भारतीय टीम का हिस्सा रहेंगे। तब कोच ने जवाब दिया कि सेमीफाइनल मैच के बाद अभी इस बारे में बात करना जल्दबाजी होगी। इन खिलाड़ियों ने हमारे लिए कई सालों से अच्छा प्रदर्शन किया है।ऐसे में हमारे पास विचार करने के लिए अभी पर्याप्त समय है।

चयन समिति में भी हो सकता है यह बदलाव

जानकारी के अनुसार बीसीसीआई की चयन समिति में भी कुछ बदलाव किया जा सकता है। इस समय चयन समिति के पूर्व खिलाड़ी चेतन शर्मा है। वही इसके सदस्य में हरविंदर सिंह, देबाशीष मोहंती और सुनील जोशी है। बीसीसीआई ने पिछले 10 महीनों से खाली पद होने के बावजूद भी पश्चिम क्षेत्र के सिलेक्टर की नियुक्ति नहीं की है।