ऋषभ पंत के चोटिल होने के बाद इस खिलाड़ी की खुल सकती है किस्मत, ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज में मिल सकता है मौका

 
ऋषभ पंत

दोस्तों अभी भारत श्रीलंका के खिलाफ टी-20 और टेस्ट वनडे सीरीज खेलेगा उसके बाद में न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे और टी-20 सीरीज खेली जाएगी लेकिन उसके बाद फरवरी-मार्च में ऑस्ट्रेलिया के साथ अपने ही घर पर चार मैचों की बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी खेली जाएगी। इस बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी में चार टेस्ट मैच होंगे। इस टेस्ट सीरीज के प्रदर्शन के आधार पर ही भारत का वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में जाने का रास्ता साल होगा। लेकिन इससे पहले ही भारत के शानदार टेस्ट बल्लेबाज ऋषभ पंत का भयंकर एक्सीडेंट हो गया है जिसे देखकर यह लगता है कि अब वह शायद ही इस टेस्ट सीरीज में भाग ले पाए। तो आज हम आपको बताने वाले हैं कि ऋषभ पंत की गैरमौजूदगी में किन खिलाड़ियों को भारतीय टेस्ट टीम में खेलने का मौका मिलेगा।

ईशान किशन 

ऋषभ पंत एक विकेटकीपर बल्लेबाज है तो उनकी जगह भी एक विकेटकीपर बल्लेबाज को ही टीम में मौका मिलेगा। इस समय ईशान किशन एक शानदार बल्लेबाज के तौर पर उभर कर सामने आए हैं हाल ही में उनके द्वारा वनडे क्रिकेट में लगाया गया दोहरा शतक कोई नहीं भूल पाया होगा। ईशान किशन ने वनडे में सबसे तेज दोहरा शतक लगाने का रिकॉर्ड भी अपने नाम कर लिया है उनकी इस पारी की सराहना काफी दिग्गज खिलाड़ियों ने भी की है। हालांकि अभी रणजी ट्रॉफी में भी उन्होंने एक शानदार शतक लगाकर अपनी फॉर्म के बारे में बीसीसीआई को इन्फॉर्म कर दिया है। अब बीसीसीआई ऋषभ पंत की जगह इशान किशन को टेस्ट टीम में मौका दे सकती।

संजू सैमसन 

इस समय भारतीय क्रिकेट टीम में अगर कोई ऐसा खिलाड़ी है जिसके बारे में काफी ज्यादा चर्चा होती रहती है तो वह संजू सैमसन है। क्योंकि संजू सैमसन एक बेहतरीन प्रतिभावान खिलाड़ी है जिनको भारतीय टीम में उसने मौके नहीं दिए गए हैं जितना अच्छा उन्होंने परफॉर्म किया है। रणजी ट्रॉफी में केरल की कप्तानी कर रहे संजू सैमसन इस समय बल्ले से आग उगल रहे हैं। संजू सैमसन में फर्स्ट क्लास क्रिकेट में खेले गए 57 मैचों में 3800 रन बनाए हैं तथा एक शानदार विकेट के पर भी हैं तो अब बीसीसीआई ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उनको मौका दे सकती है।

केएस भरत 

केएस भारत एक युवा विकेटकीपर बल्लेबाज है जो कि टेस्ट क्रिकेट में ऋषभ पंत के बाद में चुने जाने वाले खिलाड़ी हैं। हालांकि जब भी ऋषभ पंत मौजूद होते हैं तो उन्हें ही मौका दिया जाता है लेकिन अब उनकी गैरमौजूदगी में केएस भरत का भाग्य उदय हो सकता है और उन्हें भारतीय टीम में पदार्पण करने का मौका मिल सकता है। केएस भरत एक शानदार बल्लेबाज है उन्होंने अभी तक 83 फर्स्ट क्लास मैच खेले हैं जिनमें उन्होंने 4502 रन बनाए है। इस दौरान उनका औसत 37.08 का रहा है।