IND vs ENG: युज़वेन्द्र चहल खेलते तो परिणाम कुछ और हो सकता था- इरफान पठान

 
r

पूर्व भारतीय आलराउंडर इरफान पठान ने कहा है की सेमीफाइनल में यदि अश्विन की जगह युज़वेन्द्र चहल भारत की प्लेइंग 11 का हिस्सा होते तो परिणाम कुछ और हो सकता था। सेमीफाइनल मुकाबले में भारत के गेंदबाज कुछ नहीं कर पाए। इंग्लैंड का एक भी विकेट नहीं गिरा।  इंग्लैंड के सलामी बल्लेबाज एलेक्स हेल्स और जोस बटलर ने बिना कोई विकेट खोए 169 रनों का लक्ष्य हासिल कर लिया और मेलबॉर्न में पाकिस्तान के खिलाफ खेले जाने वाले फाइनल में अपनी जगह पक्की कर ली। पहले दो ओवरों में भुवनेश्वर और अर्शदीप की गेंदे थोड़ी स्विंग हुई लेकिन उन दो ओवरों में भी, इंग्लैंड ने 4 चौके लगाए। भारतीय गेंदबाज विकेट निकालने का एक मौका भी नहीं बना सके। भारत के दो स्पिनर अक्षर पटेल और आर अश्विन ने मिलकर  6 ओवर गेंदबाज़ी की और  57 रन दिये। गौर करने वाली बात यह है कि दोनों फिंगर स्पिनर हैं।

बटलर और हेल्स ने भारतीय टीम के सभी गेंदबाज़ों की धुनाई की। इरफान पठान ने बाद में ट्वीट किया:"यूजी चहल"। पठान ने ये ट्वीट इसीलिए किया क्योंकि वे चाहते थे कि सेमीफाइनल मैच में चहल खेले। पठान ने ये ट्वीट इस वजह से नहीं किया क्योंकि अक्षर पटेल और अश्विन रन खा रहे थे बल्कि इसलिए किया क्योंकि उस पिच पर लेग स्पिनर काफी कारगर साबित हो रहे थे। इंग्लैंड की टीम में दो लेग स्पिनर खेले और दोनों ने ही शानदार प्रदर्शन किया। दोनों लेग स्पिनर आदिल राशिद और लियाम लिविंगस्टोन ने मिलकर 7 ओवर डाले केवल 41 रन ही दिए। यही नहीं बल्कि आदिल राशिद ने फॉर्म में चल रहे बल्लेबाज सूर्यकुमार यादव का विकेट भी लिया।

चहल के ना खेलने से इयोन मोर्गन भी थे हैरान

 इंग्लैंड के पूर्व कप्तान इयोन मोर्गन, जो कमेंट्री कर रहे थे, वे इस बात से हैरान थे कि चहल ने टूर्नामेंट में एक भी मैच नहीं खेला। ऑस्ट्रेलियाई परिस्थितियों में जहां एक लेग स्पिनर को अधिक टर्न मिलेगा और वह अधिक प्रभावी हो सकता हैं, उसके जगह पर भारतीय टीम ने दो फिंगर स्पिनर खिलाये।