सेमीफाइनल में भारत की हार के बाद गौतम गंभीर ने की एमएस धोनी की कप्तानी की सराहना

 
भारत

एडिलेड के ओवल ग्राउंड में खेले गए दूसरे सेमीफाइनल में इंग्लैंड के खिलाफ 10 विकेट से करारी हार के बाद भारतीय क्रिकेट टीम गुरुवार (10 नवंबर) को मौजूदा आईसीसी पुरुष T20 विश्व कप से बाहर हो गई। रोहित शर्मा की अगुवाई वाली भारतीय क्रिकेट टीम 169 रनों के लक्ष्य का बचाव करने में विफल रही। इंग्लैंड ने बिना कोई विकेट खोए सिर्फ 16 ओवरों में ही लक्ष्य हासिल कर लिया। सलामी बल्लेबाज जोस बटलर और एलेक्स हेल्स के शानदार प्रदर्शन से इंग्लैंड की टीम ये मैच जीत गई। गुरुवार को भारत की हार विश्व कप सेमीफाइनल में  लगातार तीसरी हार थी। 2013 चैंपियंस ट्रॉफी जीतने के बाद से भारत अब तक कोई भी ICC टूर्नामेंट जीतने में विफल रहा है।

गौतम गंभीर ने की धोनी के कप्तानी की तारीफ़

भारत की हार के बाद, पूर्व क्रिकेटरों और फैंस ने नॉकआउट स्टेज में भारतीय टीम के प्रदर्शन और आईसीसी टूर्नामेंट ना जीत पाने की क्षमता की आलोचना की। इस सब के बीच, पूर्व भारतीय क्रिकेटर और विश्व कप के हीरो गौतम गंभीर ने विराट कोहली और रोहित शर्मा पर कटाक्ष किया। उन्होंने भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान के रूप में एमएस धोनी की उपलब्धियों की सराहना की। गौतम गंभीर ने आईसीसी आयोजनों में एक कप्तान के रूप में धोनी के रिकॉर्ड की सराहना की और तीनों आईसीसी ट्रॉफी जीतने के लिए उनकी तारीफ़ की। स्टार स्पोर्ट्स में बोलते हुए, गौतम गंभीर ने कहा: "भविष्य में कोई बल्लेबाज आएगा और शायद रोहित शर्मा की तुलना में ज़्यादा डबल सेंचुरि और विराट कोहली से अधिक शतक लगाएगा। लेकिन मुझे नहीं लगता कि कोई भी भारतीय कप्तान तीन आईसीसी ट्रॉफी हासिल कर पाएगा।"

एमएस धोनी क्रिकेट के इतिहास में एकमात्र कप्तान हैं जिन्होंने कप्तान के रूप में तीनों आईसीसी ट्रॉफी जीती हैं। उन्होंने भारतीय कप्तान के रूप में अपने पहले प्रयास में टीम इंडिया को T20 विश्व कप और एकदिवसीय विश्व कप जीताया। वह अपने कप्तानी में भारतीय क्रिकेट टीम को नंबर एक स्थान पर ले गए।