;
एडिटर चॉइस

रोहित और कोहली ने बिना AUS के विरुद्ध टेस्ट में ऐसी हो सकती हैं भारत की प्लेइंग XI

भारत के ऑस्ट्रेलिया के दौरे की शुरुआत 27 नवम्बर को सिडनी वनडे से होगी. वनडे और टी-ट्वेंटी की समाप्ति के बाद 17 दिसम्बर से 4 टेस्ट मैचों की टेस्ट सीरीज खेली जाएगी. हालाँकि टीम इंडिया के लिए परेशानी की बात ये हैं कि रोहित शर्मा पहले दो टेस्ट मैचों से बाहर हो चुके हैं जबकि कोहली भी पहले टेस्ट के बाद भारत वापसी लौट जाएंगे.

कोहली और रोहित के बिना टीम इंडिया बेहद कमजोर दिखाई देगी. जिसके मद्देनजर आज इस लेख में बिना विराट कोहली और रोहित शर्मा के बिना भारत की प्लेइंग इलेवन जानेगे.

ओपनिंग- मयंक अग्रवाल और केएल राहुल

This is just the beginning: KL Rahul lauds double centurion Mayank Agarwal  - Sports News


मयंक अग्रवाल ने ऑस्ट्रेलिया के पिछले दौरे से टेस्ट डेब्यू किया था, जिसके बाद से वह टेस्ट टीम में अपनी जगह पक्की कर चुके हैं. आगामी टेस्ट सीरीज में मयंक एक सीनियर सलामी बल्लेबाज की भूमिका में होंगे जबकि उनके साथ देने के लिए इन फॉर्म बल्लेबाज केएल राहुल होंगे.

सिमित ओवर क्रिकेट में लगातार अच्छे प्रदर्शन ने उन्हें भारत की टेस्ट टीम में जगह दी हैं, ऐसे में वह इस मौके को दोनों हाथों से भुनाने की पूरी कोशिश करेंगे.

मध्यक्रम- चेतेश्वर पुजारा, शुभमन गिल और अजिंक्य रहाणे और  हनुमा विहारी

Contracts of Likes of Pujara & Rahane Can be Re-looked, Says Shantha  Rangaswamy


कोहली और रोहित के बिना भारत की टेस्ट टीम में सबसे भरोसेमंद बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा हैं, और उनका नंबर 3 पर खेलना तय हैं. वर्तमान में पुजारा टीम के सबसे अनुभवी बल्लेबाज हैं. कोहली की गैरमौजूदगी में प्रतिभाशाली बल्लेबाज शुभमन गिल को नंबर 4 पर खेलते का अवसर दिया जा सकता हैं. गिल एक बेहद सॉलिड खिलाड़ी हैं हालाँकि कोहली की जगह पर खेलना उनके लिए एक दवाब की स्तिथि भी पैदा कर सकता हैं.

विराट कोहली की अनुस्पतिथि में उपकप्तान अजिंक्य रहाणे टीम के कप्तान होंगे और वह अपने नियमित स्थान नंबर 5 पर खेलेंगे जबकि नंबर 6 अपर हनुमा विहारी का खेलना भी तय दिखाई दे रहा हैं, इस होनहार खिलाड़ी भी भी पिछली कुछ सीरीज से पाने प्रदर्शन से सभी को खुश किया हैं.

विकेटकीपर- रिद्धिमान साहा 

;
Stats prove Wriddhiman Saha best international wicket-keeper; Pant not in  top five


ऑस्ट्रेलिया के पीछे दौरे पर साहा फिट नहीं थे, जिसेक कारण ऋषभ पंत को मौका मिला था और वह काफी सफल भी रहे थे लेकिन अब साहा की वापसी के बाद उनका खेलना तय हैं. एक तरफ पंत खराब फॉर्म से जूझ रहे हैं दूसरी ओर विकेटकीपिंग के स्तर की बात करे तो साहा पंत से काफी आगे हैं.

स्पिनर- रविचंद्रन आश्विन

;
India vs South Africa: Ravichandran Ashwin joins Muralitharan as fastest to  350 Test wickets


ऑस्ट्रेलिया की पिचें तेज गेंदबाजों की मददगार मानी जाती हैं, ऐसे में स्पिनर को मौका मिलना कठिन लेकिन आश्विन ने पहले कई विदेशी दौरे पर अपनी अद्भुत फिरकी से विदेशों में अच्छा किया हैं, ऐसे में उन्हें बतौर स्पिनर चुना जा सकता हैं.

तेज गेंदबाज- उमेश यादव, मोहम्मद शमी और जसप्रीत बुमराह

Seam-ing numbers: Virat Kohli's 'dream combination' measured against  Windies legends | Cricket News – India TV


जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी वर्तमान में दुनिया की सबसे घातक तेज गेंदबाजी जोड़ी हैं, ऐसे में कप्तान को उन्हें प्लेइंग इलेवन में चुनना लहभग अनिवार्य हैं. ईशांत शर्मा पहले दो टेस्ट मैचों से बाहर हो गए हैं, जिसका फायदा उमेश यादव को मिल सकता हैं और वह बतौर तीसरे पेसर प्लेइंग इलेवन में जगह बना सकते हैं.  

भारत को अगर ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज जीतने हैं तो बुमराह, शमी और उमेश की तेज गेंदबाजी तिकड़ी को अच्छा प्रदर्शन होगा, हालाँकि स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर की वापसी के बाद उनकी राह आसान नहीं होगी.            

;

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *