IPL TOP 5/10

ऑल-टाइम ग्रेट ऑलराउंडर IPL XI

इंडियन प्रीमियर लीग(आईपीएल) इस ग्रह पर सबसे अधिक चर्चित टूर्नामेंट बन गया है. आईपीएल की लोकप्रियता बेमिसाल है क्योंकि इसके लाखों प्रशंसक हैं. मुंबई इंडियंस प्रतियोगिता में सबसे सफल फ्रेंचाइजी रही है, जिसने चार खिताब जीते हैं. दूसरी ओर, चेन्नई सुपर किंग्स ने भी हर सीजन के प्लेऑफ़ में जगह बनाने के अलावा तीन बार खिताब जीता है.

आज इस लेख में हम आईपीएल के सबसे सफल ऑलराउंडर तैयार एक ग्रेटेस्ट आईपीएल इलेवन बनाएंगे. देखें इस टीम में किस किस खिलाड़ियों को जगह मिली हैं.

ओपनर- सुनील नरेन और शेन वॉटसन


शेन वॉटसन और सुनील नरेन की ऑस्ट्रेलियाई कैरेबियाई जोड़ी इस टीम में पारी की शुरुआत करेगी. वॉटसन ने सुनील नरेन की तरह ही आईपीएल में दो बार प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट का पुरस्कार जीता है. दोनों अंतरराष्ट्रीय दिग्गज नियमित रूप से चार ओवर फेंक सकते हैं. जबकि वाटसन वह बल्लेबाज है जो लंबी पारी पर अपना ध्यान केंद्रित करते है, नरेन विपक्षी गेंदबाजों को अपनी तूफानी बल्लेबाजी से तहस-नहस करने की क्षमता रखते हैं.

मध्यक्रम: एबी डिविलियर्स (विकेटकीपर), युवराज सिंह, सुरेश रैना और रवींद्र जडेजा

IPL 2019, RCB vs KXIP: We are turning things around now, says AB ...


एबी डिविलियर्स की चारों दिशा में शॉट के क्षमताओं के बारे में सभी जानते हैं. दक्षिण अफ्रीका के पूर्व कप्तान बल्लेबाजी, गेंदबाजी, क्षेत्ररक्षण, और यहां तक ​​कि विकेटकीपिंग भी रख सकते हैं. वह उन चुनिन्दा खिलाड़ियों में से एक है जो किसी भी विभाग में अच्छा प्रदर्शन करके अपनी टीम के लिए मैच जीता सकते हैं. चूंकि यह एक आईपीएल इलेवन है, इसलिए मैच टीम में सात भारतीय खिलाड़ी होंगे.


युवराज सिंह इस इलेवन में जगह पाने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी हैं. पंजाबी ऑलराउंडर अपने करियर में कई आईपीएल फ्रेंचाइजी के लिए खेले और आज तक, एक आईपीएल नीलामी में सबसे महंगी भारतीय खिलाड़ी का रिकॉर्ड कायम किये हुए है. पांचवे नंबर पर सुरेश रैना उनका साथ देंगे. वह टीम के उप-कप्तान भी होंगे. रैना बल्लेबाजी के साथ-साथ फील्डिंग और अपनी स्पिन से टीम की जीत में अहम भूमिका निभा सकते हैं.

IPL 2019: Ravindra Jadeja first left-arm spinner to claim 100 IPL ...


इस टीम में छठे नंबर पर सौराष्ट्र के स्टार खिलाड़ी रवीन्द्र जडेजा हैं जो पिछले कुछ वर्षों में एक सफल ऑल-राउंडर बनकर उभरे हैं. जड्डू 3-डी खिलाड़ी माने जाते है, क्योंकि उसके पास सभी विभागों में असाधारण कौशल है.

निचला क्रम – इरफान पठान, ड्वेन ब्रावो, भुवनेश्वर कुमार और रविचंद्रन अश्विन


इरफान पठान को कभी वह पहचान नहीं मिली जिसके वह हकदार थे. उन्होंने बल्ले से कई मैच विनिंग पारियां खेलीं और टीम के लिए गेंदबाजी विभाग में भी शानदार काम किया. पठान ने अपने आईपीएल करियर में कई फ्रेंचाइजी का प्रतिनिधित्व किया, लेकिन उन्होंने दिल्ली के लिए सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया. ड्वेन ब्रावो टीम के अंतिम विदेशी खिलाड़ी हैं. पूर्व आईपीएल पर्पल कैप विजेता गेंदबाजों को स्लॉग ओवरों में अपनी शानदार हिट्स करने की क्षमता से परेशान कर सकते हैं.


भुवनेश्वर कुमार इस टीम का हिस्सा बनने वाले दूसरे पर्पल कैप विजेता हैं. दाएं हाथ के तेज गेंदबाज ने बल्लेबाज के रूप में भी काफी सुधार किया है. वह जरुरत के अनुसार बाउंड्री लगा सकते है और अंतिम कुछ ओवरों में स्ट्राइक रोटेट भी कर सकते है. रविचंद्रन अश्विन इस लाइनअप के अंतिम खिलाड़ी हैं. किंग्स इलेवन पंजाब के पूर्व कप्तान क्वालिटी ऑफ स्पिन के चार ओवर फेंक सकते हैं और बल्ले से कुछ बड़े शॉट खेल सकते हैं. यहां तक ​​कि उनके नाम 2 टेस्ट शतक भी दर्ज है. उन्होंने आईपीएल में कई बार टॉप ऑर्डर में भी बल्लेबाजी की है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *