न्यूज़

सचिन तेंदुलकर और विराट कोहली में से गौतम गंभीर ने इसे बताया अपना फेवरेट

ऑलटाइम महान बल्लेबाज कौन है? ब्रायन लारा या सचिन तेंदुलकर या रिकी पोंटिंग? तीनों बल्लेबाजों ने अपने करियर के दौरान रनों का अंबार लगाया, भारत के कप्तान विराट कोहली पूरी तरह से अलग स्तर पर बल्लेबाजी कर रहे हैं और अपने करियर के अंत तक वह बल्लेबाजी के कई बड़े रिकॉर्ड तोड़ देंगे. भारतीय क्रिकेट में  कोहली की तुलना तेंदुलकर के साथ समय-समय पर की जाती है. भारत के पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर ने दो दिग्गज क्रिकेटरों के बीच बेहतर बल्लेबाज के विषय पर अपनी राय दी हैं.

Who's the better batsman between Sachin Tendulkar and Virat Kohli ...


क्रिकेट के प्रति अपनी बेबाक राय रखने वाले गौतम गंभीर ने बेहद अच्छे तरीके से समझाते हुए बताया कि तेंदुलकर कोहली से बेहतर क्यों हैं. गंभीर का कहना है सचिन इसलिए महान है क्योंकि उन्होंने एक ऐसे युग में रन बनाये हैं जहां क्रिकेट नियम आधुनिक युग में मुकाबले के अलग थे. वर्तमान में बल्लेबाजों के पास रन बनाने का अवसर ज्यादा होता हैं और फील्डर बाउंड्री पर कम होते हैं. 

स्टार स्पोर्ट्स पर बातचीत के दौरान गौतम गंभीर ने कहा, “मैं हमेशा एकदिवसीय क्रिकेट में तेंदुलकर को कोहली से ऊपर रखता हूँ. इसमें कोई दोहराए नहीं है कि कोहली पिछले कुछ वर्षो से शानदार फॉर्मे में हैं और टीम के लिए लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं हालाँकि सचिन ने उस समय खुद को साबित किया जब बल्लेबाजों के लिए रन बनाना बेहद कठिन होता था. वहीं आज रुल  बदल चुके हैं जिसके कारण स्कोर करना आज पहले के मुकाबले आसान हो गया है.”

There are no favourites for 2019 World Cup - Gautam Gambhir


गंभीर का मानना है कि मौजूदा युग में रन बनाना काफी आसान हैं. गंभीर ने आगे कहा, “आज के समय मैच में 2 नई गेंद का प्रयोग किया जाता है, गेंदबाजों के पास रिवर्स स्विंग समाप्त हो चुका है, फिंगर स्पिनर के लिए पिच मददगार नहीं होती है. वनडे क्रिकेट में 5 फील्डिर घेरे के अंदर रहते हैं. यही सभी चीजें क्रिकेट को पहले काफी आसान बना दिया, जिससे की बल्लेबाज अब रनों का अंबार लगा रहे हैं.”

अंत में गंभीर ने कहा, “तेंदुलकर अपने दौर में बिल्कुल ही अलग नियम के साथ बल्लेबाजी की हैं. उस समय में 230 से 240 रन का स्कोर भी बड़ा माना जाता था. यही कारण है कि मैं सचिन को कोहली से बेहतर बल्लेबाज मानता हूं जिन्होंने कठिन नियमों के विरुद्ध रन बनाये.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *