एडिटर चॉइस

टेस्ट क्रिकेट में रन बनाने से ज्यादा विकेट लेने वाले 4 खिलाड़ी, सूची में एक महान भारतीय भी शामिल

टेस्ट क्रिकेट में कहा जाता हैं कि गेंदबाज की मैच जीताने में भूमिका सबसे अहम होती हैं. मैच के दौरान बल्लेबाजों को गेंदबाजी करना अनिवार्य नहीं होता लेकिन गेंदबाजों को टेस्ट क्रिकेट में लगभग बल्लेबाजी करनी ही होती हैं, इसी कारण कई गेंदबाजों ने टेस्ट लेने के आलावा काफी रन भी बनायें हैं लेकिन आज इस लेख में हम 4 ऐसे खिलाड़ियों की बात करेंगे, जिन्होंने अपने अन्तराष्ट्रीय टेस्ट करियर के दौरान रन बनाने से ज्यादा विकेट लिये हैं, इस सूची में एक भारतीय खिलाड़ी भी शामिल हैं. देखे कौन है ये 4 खिलाड़ी:-

ब्रूस रीड

इंग्लैंड के बाएं हाथ के तेज गेंदबाज ब्रूस रीड ने 1985 से 1992 के दौरान अन्तराष्ट्रीय क्रिकेट खेला, इस अंतराल ने रीड ने अपने देश के लिए 27 टेस्ट और 61 वनडे मैच खेले और अपनी टीम की जीत में अहम भूमिका निभाई.

रीड ने गेंद से तो कई बड़ी-बड़ी उपलब्धियां हासिल की लेकिन बल्लेबाजी में वह कभी कुछ खास नहीं कर पाए. रीड ने टेस्ट करियर में 27 टेस्ट मैचों की 42 पारियों में 24.63 की दमदार गेंदबाजी औसत से 113 विकेट लिये लेकिन बल्लेबाजी में वह 34 पारियों में 4.65 की बेहद खराब औसत से सिर्फ 93 रन ही बना पाए.

प्रज्ञान ओझा

Image result for prgyan ojha test batting

बाएं हाथ के स्पिनर प्रज्ञान ओझा ने 2013 में अपना आखिरी टेस्ट मैच खेला था, इस मैच में उन्हें मैन ऑफ द मैच चुना गया था लेकिन उसके बाद से वह टीम इंडिया से बाहर हैं. ओझा ने गेंदबाजी में भारत को कई ऐतिहासिक जीत दिलाई लेनी बल्लेबाजी में उनका प्रदर्शन बेहद खराब रहा.

ओझा ने टेस्ट करियर की 48 पारियों में 30.26 की औसत से 113 विकेट लिये हालाँकि इस दौरान बल्लेबाजी में वह 27 पारियों में 8.9 की खराब बल्लेबाजी औसत से सिर्फ 89 रन ही बना पाए. टेस्ट क्रिकेट में ओझा की सर्वोच्च स्कोर नाबाद 18 रन रहा.

क्रिस मार्टिन

Image result for chris martin test batting

न्यूजीलैंड के दिग्गज तेज गेदबाज क्रिस मार्टिन ने वर्ष 2000 में साउथ अफ्रीका के विरुद्ध टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू किया था. जिसके बाद वह करीब 13 वर्षों तक न्यूजीलैंड के प्रमुख टेस्ट गेदबाज रहे लेकिन बल्लेबाजी में उन्हें खाता खोलने में भी बेहद परेशानी होती रही.

मार्टिन ने 71 टेस्ट मैचों की 126 पारियों में 33.81 की गेंदबाजी औसत से 233 विकेट लिये. बल्लेबाजी में क्रिस ने 71 मैचों की 104 पारियों में 2.36 की बेहद ही खराब बल्लेबाजी औसत से सिर्फ 123 रन बनाये, इस दौरान उनका सर्वोच्च स्कोर नाबाद 12 रन रहा.

भगवत चंद्रशेखर

भारत के पूर्व महान लेग-ब्रेक स्पिनर भगवत चंद्रशेखर ने वर्ष 1964 में इंग्लैंड के विरुद्ध टेस्ट डेब्यू किया, जिसके बाद वह भारत के लिए करीब 15 वर्ष तक खेले और टीम को कई यादगार जीत दिलाई.

चंद्रशेखर ने टेस्ट करियर के 58 मैचों की 97 पारियों में 29.74 की शानदार गेंदबाजी औसत से 242 विकेट लिये हालाँकि बल्लेबाजी में चंद्रशेखर ने 80 पारियों में 4.07 की औसत से सिर्फ 167 रन बनायें, इस दौरान उनका सर्वोच्च स्कोर 22 रन रहा.  

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *