ट्रेंट ब्रिज टेस्ट में धमाकेदार जीत के बाद भारत और इंग्लैंड के बीच 30 अगस्त से रॉस बाउल में सीरीज का चौथा मुकाबला खेला जाएगा. भारत वर्तमान में सीरीज में 2-1 से पीछे हैं, जिसके कारण मेहमान टीम सीरीज बराबर करने के लिए हरसंभव कोशिश करेगी. चौथे टेस्ट में जीत दर्ज के लिए कप्तान कोहली टीम की प्लेइंग इलेवन में 2 बदलाव कर सकती हैं.

पृथ्वी शॉ का हो सकता है डेब्यू

#u#all#know#how#it#feels#after#scoring#100#on#a#ranji#debut#☺☺#thanku everyone for support and love👍👍✌✌

A post shared by Prithvishaw (@prithvishaw) on

टीम इंडिया के युवा होनहार सलामी बल्लेबाज केएल राहुल ने अब तक टेस्ट सीरीज में अपने प्रदर्शन से निराश किया है. राहुल ने शुरूआती 3 टेस्ट मैचो की 6 पारियों में 15.67 की बेहद ख़राब औसत से सिर्फ 94 रन बनायें हैं.

पहले तीन मैचो में ख़राब प्रदर्शन के बाद अब विराट कोहली सीरीज के सबसे महत्वपूर्ण टेस्ट के लिए केएल राहुल को प्लेइंग इलेवन से बाहर कर सकते हैं, जबकि उनके स्थान पर इनफॉर्म युवा पृथ्वी शॉ को डेब्यू का मौका दिया जा सकती हैं.

पृथ्वी शॉ को आखिरी दो टेस्ट मैचो के लिए दिग्गज सलामी बल्लेबाज़ मुरली विजय के स्थान पर टीम में चुना गया हैं. भारत ए के लिए इग्लैंड में शानदार प्रदर्शन के बाद कोहली शॉ को अजमाना चाहेगे, दूसरी केएल राहुल टी-ट्वेंटी में शतक लगाने के बाद से बेहद ख़राब प्रदर्शन कर रहे हैं. यही कारण है कि शॉ को चौथे टेस्ट के लिए उन्हें प्लेइंग इलेवन में जगह दे दे.

अश्विन की जगह जडेजा को मिल सकता हैं

☝🏻🤚 🙊#rajputboy

A post shared by Ravindrasinh Jadeja (@royalnavghan) on

31 वर्षीय ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने एजबेस्टन टेस्ट में बेहद ख़राब गेंदबाज़ी करते हुए 7 विकेट लिए थे. लेकिन उसके बाद पिछले दो टेस्ट मैचो में उन्हें सिर्फ एक विकेट मिली हैं. इसके आलावा वह तीसरे टेस्ट में चोटिल हो गए थे. ऐसे में कोहली उन्हें आराम देकर बाएं हाथ के स्पिन ऑलराउंडर रविंद्र जडेजा को मौका दे सकते हैं.

अश्विन टीम के प्रमुख स्पिनर हैं. ऐसे में कप्तान कोहली उनकी फिटनेस के साथ किसी तरह का जोखिम नहीं लेना चाहेगे.