बॉल टेम्परिंग कांड में बैन झेल रहे श्रीलंका के कप्तान दिनेश चंदिमल दक्षिण अफ्रीका के विरुद्ध खेले जाने वाले एकलौते टी-ट्वेंटी से दोबारा वापसी कर रहे है. 6 मैचो के प्रतिबंध के कारण उन्हें वनडे सीरीज में जगह नहीं मिली थी, हालाँकि टी-ट्वेंटी मैच के लिए उन्हें 15 सदस्यों की टीम में चुन लिया गया हैं.

©Getty

वर्ष 2015 में दो टी-ट्वेंटी खेलने वाले बाएं हाथ के तेज गेंदबाज़ बिनुरा फ़र्नांडो की दोबारा टीम में वापसी हुई हैं, जबकि टीम के कप्तानी चंदिमल नहीं बल्कि एंजेलो मैथ्यूज की सौंपी गई हैं. चयनकर्ताओ ने सुरंगा लकमल के स्थान पर बिनुरा फ़र्नांडो की जगह दी हैं, जबकि निरोशन डिकवेला की जगह शेहन मदुशंका को चुना गया हैं.

चयनकर्ताओं ने सभी को हैरान करते हुए लेग-स्पिनर जेफरी वांडर्स को भी टीम जगह दी हैं. इससे पहले उन्हें वेस्ट इंडीज दौरे पर अनुसाशनहीनता के कारण वापसी श्रीलंका भेजा गया था. दिमुथ करुणरत्न, इसुरु उडाना, डिकवेला और कसुन रजीता ओ स्टैंडबाय खिलाड़ियों के रूप में रखा गया हैं.

टीम में ऐसे खिलाडी है जिन्हें टी-ट्वेंटी और वनडे दोनों टीमों में चुना गया हैं, हालंकि अभी यह फ़ैसला नहीं हुआ है कि प्लेइंग इलेवन में किसे जगह मिलेगी.

दिनेश चंदिमल पर बॉल टेम्परिंग के बाद लगा था 6 मैचो का

©AFP

वेस्टइंडीज के विरुद्ध खेली गई टेस्ट सीरीज के दौरान दिनेश चंदिमल पर बॉल टेम्परिंग का आरोप लगाया था. दरअसल आईसीसी द्वारा जारी की गई विडियो में वह गेंद पर कोई मीठा प्रदार्थ लगाते हुए गए थे, जिसके बाद उन पर आईसीसी ने 6 अंतराष्ट्रीय मैचो का प्रतिबन्ध लगाया था. लेकिन दक्षिण अफ्रीका के विरुद्ध खेली जा रही वनडे सीरीज के बाद उनका बैन खत्म हो जायेगा और वह टी-ट्वेंटी में खेलते हुए दिखाई देगे.

टी-ट्वेंटी के लिए श्रीलंका की टीम:-

एंजेलो मैथ्यूज (कप्तान), दासुन शानाका, कुसल जानिथ परेरा, धनंजय डी सिल्वा, उपुल थरंगा, कुसल मेंडिस, थिसारा परेरा, शेहन जयसूर्या, शेहान मदुष्का, लाहिरू कुमाडरा, दिनेश चंदिमल, अकिला धनंजय, जेफरी वंडर्स, लक्ष्मण संदाकन, बिनुरा फर्नांडॉ