Photo: YouTube

कहावत है कि गुस्से में किया जाने वाला काम ज्यादातर सफल नहीं होता हैं. लेकिन इस लेख में हम 5 पारियों के बारे में जानेगे, जब बल्लेबाज़ ने गुस्से में अद्भुत पारी खेलकर कभी न टूटने वाला रिकॉर्ड बना दिया. देखे कौनसे खिलाड़ी है इस सूची में शामिल:-

युवराज सिंह

Photo: YouTube

युवराज सिंह ने आईसीसी टी-ट्वेंटी वर्ल्डकप 2007 में इंग्लैंड के विरुद्ध गुस्से में महज 16 गेंदों पर 58 रनों की तूफानी पारी खेली थी. मैच में स्टुअर्ट ब्रॉड की गेंद पर छ छक्के लगाने से पहले इंग्लैंड के ऑलराउंडर एंड्रू फ्लिंटॉफ युवराज सिंह से भीड़ गए थे. इसके बाद जो हुआ था वो आज इतिहास के पन्नों में दर्ज हैं.

हरभजन सिंह

Photo: Twitter

वर्ष 2010 एशिया कप फाइनल में हरभजन सिंह ने गुस्से में 11 गेंदों पर नाबाद 15 रनों की छोटी और मैच जितवाने वाली पारी खेली थी.

इस पारी से पहले पाकिस्तान के तेज गेंदबाज़ शोएब अख्तर हरभजन सिंह से भीड़ गए थे, जिसके बाद भज्जी ने गुस्से में दो छक्के लगाकर टीम इंडिया को एशिया कप चैंपियन बनाया था.

तमीम इकबाल

Photo: Twitter

बांग्लादेश के सलामी बल्लेबाज़ तमीम इकबाल ने भारत के विरुद्ध वर्ष 2010 में 151 रनों की शानदार टेस्ट पारी खेली थी.

इस मैच में टीम इंडिया के तेज गेंदबाज़ ज़हीर खान ने तमीम इकबाल के साथ स्लेजिंग करके उन्हें गुस्सा दिला दिया था. जिसके बाद तमीम ने इस बेहद यादगार पारी खेली थी.

लेंडल सिमंस

Photo: ICC

आईसीसी टी-ट्वेंटी वर्ल्डकप 2016 फाइनल में वेस्टइंडीज के बल्लेबाज़ लेंडल सिमंस ने भारत के विरुद्ध 51 गेंदों पर 82 रनों की शानदार पारी खेली थी. इस पारी के दौरान सिमंस बेहद गुस्से में थे. मैच के बाद सिमंस ने अपने गुस्से की वजह बताते हुए कहा था कि टीम इंडिया के खिलाडियों ने उनके साथ स्लेजिंग की थी.

दिनेश कार्तिक

Photo: Twitter

निद्हास त्रिकोणीय सीरीज 2018 के फाइनल में टीम इंडिया के विकेटकीपर बल्लेबाज़ दिनेश कार्तिक ने 8 गेंदों पर 2 चौके और 3 छक्को की मदद से नाबाद 29 रनों की पारी खेली थी.

इस पारी के दौरान दिनेश कार्तिक अपने ही टीम के कप्तान रोहित शर्मा से काफी नाराज़ थे. दरअसल रोहित ने इस मैच में कार्तिक से पहले युवा ऑलराउंडर विजय शंकर को बल्लेबाजी के लिए भेज दिया था. जिससे कार्तिक बेहद नाराज़ थे. कार्तिक ने इस बात का खुलासा चैट शो व्हाट द डक सीजन-3 में किया था.