आईपीएल 11 मे शुक्रवार को चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयलस के बीच सवाई मानसिंह स्टेडीयम जयपुर मे मैच खेला गया था।यह मैच भी अन्य मैचो की तरह अंतिम ओवर तक गया और हम यह भी कह सकते है कि ये मैच रोमांच से भरा था।

टॉस जीतकर चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान धोनी ने बल्लेबाजी का फैसला किया था। पहले बल्लेबाजी करते हुए चेन्नई सुपर किंग्स के शुरुआत खराब हुई क्योकि पूरे टूर्नामेंट मे फोर्म मे चल रहे अंबाती रायडू आज महज 9 गेंदो पर 12 रन बनाकर जोफ्रा आर्चर की गेंद का शिकार हो गए।वही इनके साथी शेन वॉटसन ने 2 चौको और 2 छक्को की मदद से 31 गेंदो पर 39 रन बनाए।यह भी जोफ्रा आर्चर की गेंद का शिकार बने।

सुरेश रैना ने आज शानदार अर्धशतक लगाकर अपनी वापसी की है।सुरेश रैना ने आज काफी शानदार और आक्रामक पारी खेली।रैना के आत्मविशास के लिए इस पारी की बेहद जरूरत थी।सुरेश रैना ने आज दमखम दिखाते हुए 35 गेंदो पर 52 रन बनाए।52 रन की पारी मे 6 चौके और 1 छक्का शामिल था।

जब तक्र रैना क्रीज पर थे तब तक तो चेन्नई का अनुमानित स्कोर 200 तक लग रहा था।लेकिन जैसे ही यह आउट हो गए राजस्थान रॉयलस के गेंदबाजो ने पलटवार किया और रनो की गति पर लगाम लगाया। धोनी ने  23 गेंदो का सामना करते हुए 33 रन बनाए थे ।तो वही सैम बिलिंग्स ने 22 गेंदो पर 27 रन बनाए।चेन्नई सुपर किंग्स ने निर्धारित 20 ओवर मे 4 विकेट के नुकसान पर 176 रन बनाए।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी राजस्थान रॉयलस की शुरुआत काफी अच्छी रही।आज अजिंक्य रहाणे ने अपने उस बल्लेबाज को बतौर सलामी बल्लेबाज भेजा जो अब तक फोर्म मे नही है।यह खिलाड़ी ऑलराउंडर बेन स्टॉक्स है।बेन स्टॉक्स और जोस बटलर की जोड़ी ने शानदार शुरुआत की।हालांकि इनकी 48 रन की साझेदारी मे 90 प्रतिशत रन बटलर के थे।

स्टॉकस के आउट होने के बाद रहाणे आए और वो भी ज्यादा देर टिक नही पाए और पैवेलियन लौट गए।इसके बाद बटलर और सैमसन ने धीरे धीरे पारी को आगे बढ़ाया ।परंतु गलत फहमी की वजह से संजू सैमसन रन आउट हो गए।

इसके बाद एक छोर पर तो बटलर टिके हुए थे लेकिन दूसरे छोर पर विकेट गिरे जा रहे थे।स्टॉर्ट बिन्नी ने कुछ रन बनाए लेकिन आउट हो गए ।लेकिन इस वक्त राजस्थान पर दबाव बन चुका था ।इस दबाव को कॄष्णप्पा गौतम ने 4 गेंदो पर 13 रन बनाकर निकाल दिया।अंतिम ओवर मे राजस्थान रॉयलस को 6 गेंदो पर 12 रन चाहिए थे।

पहली 3 गेंदे तो ब्रावो ने शानदार गेंद डाली और सिर्फ 4 रन दिए।लेकिन इसके बाद बटलर ने छक्का मारकर राजस्थान रॉयलस को वापसी दिलाई।इसके बाद बटलर ने 2 रन ओर भागकर मैच को अपने नाम कर लिया।बटलर ने ही पारी की शुरुआत की थी और अंत भी बटलर ने ही किया।60 गेंदो पर 95 रन की धमाकेदार पारी खेली।

बटलर द्वारा खेली गई मैच जीताऊ पारी की बदौलत इन्हे मैंन ऑफ द मैच के खिताब से नवाजा गया।मैंन ऑफ द मैच का खिताब लेते हुए बटलर ने कहा कि टी-20 क्रिकेट की सबसे अच्छी पारी को लेकर पूछने पर) जाहिर तौर पर, खासकर आईपीएल में, मैंने अपनी पट्टियों को मारा और जब आप बाहर नॉट आउट जाते हो तो ये खास होता है। जैसा हमने देखा कि विकेट पहले 6 ओवर में बहुत बढ़िया खेल रहा था।

ब्रावो श्रेष्ठ में से एक गेंदबाज हैं। लेकिन आप सोचते हैं कि दो हिट ही लगानी है। आपको अपने आपको केवल रोक कर रखना होता है और मेरा परिवार यहां पर है और ये बहुत ही स्पेशल प्रदर्शन है जब मेरी मां, मेरी पत्नी, मेरे चाचा और चाची यहां पर हैं।