क्रिकेट इतिहास के ऐसे ‘रिकॉर्ड’ जिसे आज तक कोई नही तोड़ पाया.

क्रिकेट के खेल में दिन पर दिन एक नया रोमांच आता रहता है।क्रिकेट मे कई प्रकार के रिकॉर्ड बनते रहते है और यह रिकॉर्ड बनते ही टूटने के लिए है।आज हम आपके सामने क्रिकेट इतिहास का ऐसे रिकॉर्ड लेकर आए है जिनको तोड़ना बेहद कठिन है ।

  • ब्रायन लारा के 400 रन

वेस्टइंडीज़ के महान बल्लेबाज ब्रायन लारा की बल्लेबाजी के सभी लोग प्रभावित है।इन्होने 90 के दशक से ही रन बनाना शुरु कर दिया था।ब्रायन लारा ने साल 2004 मे इंग्लैंड के खिलाफ 400 रन का भंडार सबके सामने बनाया था।अब यह ऐसा रिकॉर्ड बन गया है जिसके आसपास वर्तमान मे कोई बल्लेबाज नही मंडरा रहा।इन्होने इस दौरान 778 मिनट बल्लेबाजी की थी और इन्होने 582 गेंदे खेली थी, जिसमे 43 चौके और 4 छक्के की मदद से 400 का आँकड़ा पूरा किया था।

  • रोहित शर्मा के 264 रन

रोहित शर्मा ने एकदिवसीय क्रिकेट मे एक पहाड़ जैसा रिकॉर्ड अपने नाम किया हुआ है ।इन्होने श्रीलंका के खिलाफ 264 रन का पहाड़ जैसा स्कोर अकेले ही बनाया था।इन्होने अब तक एकदिवसिय क्रिकेट में तीन दोहरे शतक बनाए है ।इन्होने 173 गेंदो पर 264 रन की पारी खेली थी जिसमे 33 चौके और 9 छक्के शामिल थे।

  • ऑस्ट्रेलिया का लगातार तीन बार विश्व कप जीतना

ऑस्ट्रेलिया को सबसे मजबूत टीम माना जाता है , चाहे एकदिवसीय क्रिकेट हो या फिर टेस्ट क्रिकेट हो ऑस्ट्रेलिया ने हर मायने मे अपने आप को चैंपियन साबित किया है ।ऑस्ट्रेलिया के नाम लगातार तीन विश्व कप जीतने का रिकॉर्ड है ।इन्होने साल 1999,2003 और 2007 मे विश्व कप जीते है।यह रिकॉर्ड आज भी कायम है।

  • श्रीलंका टीम का टेस्ट’ क्रिकेट मे सर्वाधिक स्कोर

श्रीलंका क्रिकेट इतिहास में भारत के खिलाफ सनथ जयसूर्या की 390 रन की पारी और रौशन महानामा की 225 रन की पारी । इन दोनो की 576 रनो की साझेदारी की बदौलत श्रीलंका ने 6 विकेट खोकर 952 रन बनाए थे।यह टेस्ट क्रिकेट मे सर्वाधिक स्कोर है।

  • टेस्टक्रिकेट मे व्यक्तिगत तौर पर 19 विकेट लेना

1956 मे ऑल्ड ट्रैफर्ड के मैदान पर चौथे टेस्ट मे ऑस्ट्रेलिया की दूसरी पारी मे सभी 10 विकेट लेकर जिम लेकर दुनिया के पहले खिलाड़ी बन गए थे जिन्होने दस विकेट हासिल किए थे।दोनो पारियो को मिलाकर इन्होने 19 विकेट हासिल किए थे।यह रिकॉर्ड अभी भी इन्ही के नाम बरकरार है ।

  • ब्रैडमेन की औसत्त 

ऑस्ट्रेलिया के महान बल्लेबाज डॉन ब्रैडमेन के नाम टेस्ट क्रिकेट’ मे 99.94 की औसत है।130 साल के क्रिकेट इतिहास की बात करे तो ब्रैडमेन के इस रिकॉर्ड के पास अब तक कोई पहुँचा है तो वह है ग्रीम पॉलक जिनके नाम 61 की औसत है।

  • मुथैया मुरलीथरन की 800 विकेट

टेस्ट क्रिकेट मे मुथैया मुरलीथरन ने सबसे ज्यादा 800 विकेट हासिल किए है ।इन्होने प्रज्ञान ओझा को अपना 800वा शिकार बनाया था।महान लेग स्पिनर शेन वार्न ने भी यह कहा है कि मुरलीथरन का यह रिकॉर्ड तोड़ना काफी मुश्किल है।