भारत और साउथ अफ्रीका के बीच खेले गए चौथे एकदिवसिय मैच मे भारत को हार का सामना करना पड़ा था।बारिश के कारण यह मैच दक्षिण अफ्रीका की बल्लेबाजी के दौरान 28 ओवर का हो गया था।आप सभी की जानकारी के लिए बता दे कि इस मैच का नतीज़ा डकवर्थ लुईस मैथड द्वारा घोषित किया गया था।यह मैच जीतने के बाद दक्षिण अफ्रीका इस श्रृंखला मे बनी हुई है ।हालाँकि भारत अभी भी 3-1 से इस श्रृंखला मे आगे है ।

इन दोनो टीमो के बीच अगला मैच 13 फरवरी को खेला जाएगा।इस मैच मे यकीनन भारतीय टीम की ओर से बदलाव देखने को मिल सकते है ।आइए देखते है पाँचवें एकदिवसीय मैच के लिए भारतीय संभावित टीम :-

अजिंक्या रहाणेरहाणे को हमेशा से ही कोहली ने दूसरा सलामी बल्लेबाज माना है ।ऐसे मे रोहित शर्मा की खराब फोर्म इन्हे मिडिल ऑर्डर से उठाकर फिर से सलामी बल्लेबाज बना सकती है ।

शिखर धवन
शिखर धवन अपनी बेहतरीन फोर्म मे चल रहे है जिस वजह से इन्हे टीम मे ना शामिल करने का तो मतलब ही नही बनता।

विराट कोहली
विराट कोहली वर्तमान में दुनिया के सर्वश्रेठ बल्लेबाज़ है, जिसका उदाहरण हमे देने की जरुरत नही है क्योँकि यह पहले मैच से ही अपनी शानदार फोर्म मे चल रहे है ।
दिनेश कार्तिकघरेलू स्तर पर दिनेश कार्तिक आय दिन शानदार प्रदर्शन कर रहे है , जिस वजह से इन्हे फिर से टीम मे शामिल किया गया है ।हम सब जानते है कि इनके पास अनुभव है और यह इस समय फोर्म मे भी चल रहे है तो जरुर ही कोहली इन्हे खिलाना चाहेगे।
मनीष पाँडे
मनीष पाँडे भारतीय टीम के उभरते हुए सितारे है।टीम मे प्रतियोगिता होने के कारण इन्हे लगातार मौके नही मिल रहे है ।यह एक क्लास प्लेयर है जिसमे कई तरह के टैलेंट है ।

एमएस धोनी
एमएस धोनी बतौर विकेटकीपर आज भी दुनिया के सर्वश्रेठ विकेटकीपर हैं,श्रीलंका के विरुद्ध धोनी ने बल्ले से काफ़ी अच्छा प्रदर्शन किया, हालाँकि इसके बाद ऑस्ट्रेलिया और फिर न्यूज़ीलैण्ड के विरुद्ध पहले वनडे में धोनी कुछ ख़ास नहीं कर पायें हैं। लेकिन यह भारतीय टीम का अहम हिस्सा है, इनकी उपस्थिति ही बहुत कुछ बतलाती है।

हार्दिक पंड्या
हार्दिक पंड्या भारतीय टीम की रीड की हड्डी है , यह बल्लेबाजी मे भी अच्छा प्रदर्शन कर सकते है और साथ ही गेंदबाजी मे भी अच्छा ।इनका ऑलराउंड प्रदर्शन भारतीय टीम के लिए बहुत मायने रखता है।

कुलदीप यादवकुलदीप यादव बाए हाथ के चाईनामैन गेंदबाज है और भारतीय स्पिन गेंदबाजो के अहम हिस्सा भी ।इनका जलवा पहले तीन मैचो मे देखने को मिला था।चौथे मैच मे थोड़ा सा खराब प्रदर्शन हुआ , परंतु इस वजह से इन्हे ड्रॉप नही किया जाएगा।

युज्वेन्द्र चहल
हाल ही मे युजवेंद्र चहल को आईसीसी ने टी-20 का बेहतरीन गेंद्बाज का अवार्ड दिया था।पिछले कुछ समय से चहल सिमित ओवर क्रिकेट में भारत के सबसे महत्वपूर्ण स्पिनर रहे हैं।इन्होने अपनी किफायती गेंदबाजी से सभी बल्लेबाजो को तंग किया है और धीरे धीरे कप्तान कोहली का भरोसा जीता है ।

भुवनेश्वर कुमार
इनको टीम मे ना लेना मतलब आलोचनाओ को बुलावा देना है, जैसा कि कोहली को दूसरे टेस्ट मे आलोचनाओ से गुजरना पड़ा था।यह अपनी लय मे चल रहे है और ऐसे मे यह अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर सकते है ।

जसप्रीत बुमराह
सिमित ओवर क्रिकेट में पिछले कुछ समय से जसप्रीत बुमराह और भुवनेश्वर कुमार की जोड़ी काफ़ी सफ़ल रही है, यही कारण है, कि उमेश यादव और मोहम्मद शमी जैसे दिग्गज गेंदबाज़ प्लेयिंग XI में जगह बनाने में विफल रहे हैं। जसप्रीत बुमराह ने अपनी गेंदबाजी से पहले तीन टेस्ट मैचो मे सभी को प्रभावित किया है|