आईसीसी अंडर-19 विश्व कप: शुभम गिल की शानदार पारी की मदद से भारत ने ज़िम्बाब्वे को धूल चटाई.

अंडर 19 विश्व कप युवा खिलाड़ियों के लिए बहुत ही सुनहरा मौका है कि वह अपनी नेशनल टीम मे जगह बनाने के लिए अच्छा प्रदर्शन करे।हालाँकि इस टूर्नामेंट मे सभी टीमे अपना अच्छा प्रदर्शन कर रहे है।भारतीय टीम की बात करे तो यह टीम अपना बेहद बेहतर प्रदर्शन कर रही है , आशा करते है कि आगे आने वाले सभी मुकाबलो मे यह ओर बेहतर प्रदर्शन करे।

भारत ने अपने पहले ही मैच मे ऑस्ट्रेलिया को बुरी तरह रौंदा था,इस मैच मे भरतीय टीम ने विश्व कप मे अपनी मजबूत दावेदरी पेश की थी।भारतीय टीम ने इस मैच मे बल्लेबाजी के साथ साथ गेंदबाजी मे भी शानदार प्रदर्शन किया था।

इस मैच मे भी भारतीय कप्तान पृथ्वी शॉ ने शानदार बल्लेबाजी की और भारत को एक अच्छी स्थिति मे पहुँचाया ।हालाँकि पृथ्वी शॉ अपने शतक से चूक गए थे क्योँकि पृथ्वी शॉ 94 रन पर ही आउट हो गए थे।

भारतीय टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए शानदार बल्लेबाजी की थी , इनकी शुरुआत इतनी बेहतर थी की भारतीय सलामी जोड़ी ने 180 रन की साझेदारी की। पृथ्वी शॉ ने मनजोत कालरा के साथ साझेदारी करते हुए शानदार टेकनिक का नजारा दिखाया। भारतीय टीम ने कुल 50 ओवर मे कुल मिलाकर 328 रन बनाए थे।

इसके बाद लक्ष्य का पीछा करने उतरी ऑस्ट्रेलियाई टीम महज 42.5 ओवर मे ही228 रन बनाकर ऑल आउट हो गई थी ।जिसके फलस्वरुप भारतीय टीम ने 100 रन के बड़े अंतर से जीत दर्ज कर ली थी ।

इसके बाद भारतीय टीम ने पापुआ न्यू गिनी को 10 विकेट से हरा दिया था, यह जीत बहुत ही बड़ी जीत थी।भारत ने इस जीत के साथ क्वार्टर फाइनल मे भी जगह बना ली थी । लेकिन अभी भी भारत को एक मैच खेलना है जो ज़िम्बाबवे के खिलाफ होगा।

भारत के सभी खिलाड़ी अपनी शानदार लय मे चल रहे है और इस लय को यह आगे भी बरकरार करना चाहेगे।इस शानदार लय को भारत ने फाइनल मैच तक बरकरार करना है, भारतीय टीम के सभी प्रशंसक चाहते है कि भारतीय टीम इस बार अंडर 19 विश्व कप को जीत ले।

आज यानि 19 जनवरी, 2018 को भारत और जिम्बाब्वे के बीच मैच खेला गया था जिसमे भारत ने प्रशंसकों को निराश किए बिना यह मैच आसानी से जीत लिया है । भारत ने शानदार गेंदबाजी का नजारा दिखाया और इसके बाद बल्लेबाजी मे तो अव्वल दर्जे की बल्लेबाजी कर सबको प्रभावित कर दिया।

पहले बल्लेबाजी करते हुए जिम्बाब्वे की टीम ज्यादा खास प्रदर्शन नही कर पाई और फिर भारत के सामने 155 रनो का लक्ष्य रखा । भारत की ओर से सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज बाए हाथ के स्पिनर अनुकुल रॉय बने । इन्होने शानदार 7 ओवर करवाते हुए चार विकेट ली , इनकी इकॉनॉमी रेट 2.8 था।

इसके बाद भारतीय बल्लेबाज बल्लेबाजी करने उतरे इस बार कप्तान पृथ्वी शॉ ने सलामी जोड़ी मे बदलाव करते हुए फार्विक देसाई और शुभम गिल को भेजा । यह निर्णय काफी दिलचस्प था , परंतु मैच के बाद सबने इस निर्णय को सलाम किया। इन दोनो बल्लेबाजो ने बिना आउट हुए ही मैच जीतवा दिया। हार्विक देसाई ने 73 गेंदे खेलते हुए 56 रन बनाए, जिसमे 8 चौके और 1 छक्का शामिल था।

Image Source: Twitter

वही दूसरी ओर शुभम गिल की बात करे तो इन्होने शानदार पारी खेली और 59 गेंदो मे 90 रन की पारी खेली।इनकी इस पारी मे 13 चौको के साथ साथ 1 छक्का भी शामिल था।इनकी इस विस्फोटक पारी की बदौलत इन्हे मैंन ऑफ द मैच घोषित किया गया।

अब भारत का अगला मैच सेमी फाइनल मे जगह बनाने के लिए होगा, यह मैच भारत के लिए बहुत ही महत्तवपूर्ण होगा और आशा करते है कि भारत यह मैच भी आसानी से जीत जाए और अपनी लय बरकरार रखे।