कप्तान कोहली ने कल की शर्मनाक हार के बाद हार्दिक पंड्या को लेकर दिया बड़ा ब्यान…

साल 2018 मे जिस श्रंखला का बहुत ही बेसबस्री से इंतजार था वह थी साउथ अफ्रीका बनाम भारत । भारत और साउथ अफ्रीका के बीछा पहला मैच चौथे ही दिन केपटाउन मे खत्म हो चुका है । आप सभी की जानकारी के लिए बता दे कि परिणाम सोथा अफ्रीका के पक्ष मे रहा। भारत की शर्मनाक हार से सभी भारतवासी अथवा सभी भारतीय प्रशंसक बेहद निराश दिखे।

साउथ अफ्रीका के कप्तान फाफ डु प्लेसिस ने पहले टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया , हालाँकि साउथ अफ्रीका की शुरुआत अच्छी नही रही , परंतु बाद मे इनकी पारी को कप्तान डुप्लेसिस ने खुद और डिविलियर्स ने सम्भाला । इसके बाद भारतीय गेंदबाजो ने अच्छा प्रदर्शन करते हुए साउथ अफ्रीका को 285 रन पर ही समेट दिया था।

जवाब मे भारतीय बल्लेबाज जब बल्लेबाजी करने उतरे तो माना जा रहा था कि भारतीय खेमा साउथ अफ्रीका को बहुत बड़ी लीड देगा । परंतु 100 रन के नीचे ही भारत के 7 बल्लेबाज आउट हो चुके थे , जिसके बाद हार्दिक पंड्या ने संकट मोचन का काम करते हुए शानदार 93 रन बनाए । हालांकि यह भारत को उस मुकाम तक नही पहुँचा सके पर पहली पारी मे भारत 77 रन पीछे था साउथ अफ्रीका से ।

दूसरी पारी मे साउथ अफ्रीका के बल्लेबाजो ने खास प्रदर्शन नही किया , या हम बोल सकते है कि भारतीय गेंदबाजो ने लाजवाब प्रदर्शन किया जिसकी बदौलत भारतीय टीम ने साउथ अफ्रीका को 130 रन के कुल स्कोर पर ही ऑल आउट कर दिया था।इसके बाद भारत को जीत के लिए 208 रन बनाने थे और यह लक्ष्य बहुत आसान भी लग रहा था।

परंतु इस लक्ष्य को साउथ अफ्रीका के गेंदबाजो ने भारत के लिए बहुत मुश्किल कर दिया जिसकी वजह से भारतीय बल्लेबाजी एक बार फिर साउथ अफ्रीका के तेज आक्रमण के आगे सिमट गई।भारत की इस शर्मनाक हार के बाद भारतीय प्रशंसको को निराशा मिली । भारत पहला टेस्ट मैच 72 रनो से हार गया है।माना जा रहा था कि भारतीय टीम इस बार साउथ अफ्रीका मे अच्छा प्रदर्शन करेगी परंतु भारतीय टीम तो पुरी तरह से बिखर गई ।

मैच के बाद प्रस्तुति समारोह मे विराट कोहली ने हमारी टीम के गेंदबाजों ने काफी जल्द ही अपने आपको इस पिच पर ढाल लिया है।हालांकि कुछ कमियां हमें सुधारनी पड़ेगी,जो विदेशी सरजर्मी पर या घर के बाहर मुश्किले पैदा करती है। हमें यहां से अपने आपको पॉजिटीव रखते हुए आगे मिलने वाली चुनौतियों का सामना करना चाहिए और मिलने वाले अवसर को अपने हाथों से जाने नहीं देना चाहिए।

हार्दिक पण्ड्या हमारी टीम के सबसे मजबूत खिलाड़ी बनकर उभरे हैन्होंने इस टेस्ट में जबरदस्त खेल का प्रदर्शन दिखाया और टीम को सही दिशा में ले गए। न्होंने टीम के लिए काफी अच्छी बल्लेबाजी भी की। का यह खेल और भी शानदार कहा जाएगा,क्योंकि न्होंने यह काम घर के बाहर किया है। गजब का खेल और आशा करता हूं वह भारतीय टीम के लिए लंबी रेस का घोड़ा साबित होंगे।