श्रीलंका को 3-0 से हराने के बाद रोहित शर्मा ने किया कुछ ऐसा…

0
205

भारत ने पहले श्रीलंका मे जाकर श्रीलंका को बुरी तरह हराया था। इसके बाद श्रीलंका का अगमन भारत मे हुआ । उम्मीद की जा रही थी कि श्रीलंका इस बार कड़ी चुनौती देगी। पर ऐसा बिल्कुल भी देखने को नही मिला , श्रीलंका की वह टीम नही लग रही थी जैसे कि महिला जयवर्धने और कुमार संगाकारा के समय पर होती थी ।

भारत ने श्रीलंका को टेस्ट मैच मे हराया, फिर एकदिवसीय श्रंखला मे मात दी और अब भारत ने आखिरी और अंतिम टी-20 मे भी श्रीलंका को हरा के अपनी बेहतर परफॉरमेंस को सबके सामने दिखाया है ।भारत ने अंतिम टी-20 जीतकर, यह श्रंखला भी अपने नाम कर ली है ।

एकदिवसीय मैचो मे भारतीय टीम के मौजूदा कप्तान रोहित शर्मा का तीसरा दोहरा शतक , और फिर टी-20 मैचो मे सबसे तेज शतक जड़ कर कप्तान रोहित शर्मा प्रसन्न्ता के पात्र बने।

कप्तान रोहित शर्मा शुरु से ही यह कहते हुए आए थे कि टॉस मैटर नही करता , मैटर करता है तो हमारी पर्फोर्मेंस और जिससे हम बहुत खुश है ।भारतीय बल्लेबाजो के साथ साथ गेंदबाजो ने भी अपना जबरदस्त प्रदर्शन दिखाया जिस बदौलत भारत ने श्रीलंका के चारो खाने पस्त कर दिए।

भारतीय टीम इस बार युवा बल्लेबाजो और गेंदबाजो से सज्जित थी , हालाँकि युवा खिलाड़ियों ने अपने प्रदर्शन मे कोई कमी नही छोड़ी | जिस वजह से टीम मे सभी खिलाड़ियों के लिए एक प्रतिद्वंद्विता शुरु हो गई है ।युवाओ का बेहतर प्रद्र्शन भारतीय टीम के लिए काफी अच्छा है ।

श्रंखला को अपने नाम करने के बाद रोहित शर्मा ने कुछ ऐसा कहा जिससे हम सभी को कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की याद आ गई ।रोहित शर्मा ने कहा कि “हम हमेशा से जानते थे कि हमारे लिए जो भी लक्ष्य निर्धारित किया जायेगा हम अपनी बल्लेबाजी से उसे आसानी से पा लेंगे क्योंकि हमारे पास अच्छे बल्लेबाज है ।पूरी श्रृंखला के दौरान अपनी टीम के प्रदर्शन से खुश हूं। जिन लोगों को भी अवसर मिले, उन्होंने उसका पूरा फायदा उठाया ह। यह पूरी टीम के एक संयुक्त प्रयास की जीत है।

प्रत्येक व्यक्ति ने बहुत प्रयास किए हैं, उन्होंने अपना होमवर्क अच्छी तरह से किया है, जो बहुत ही सुखदायक था।आप देख रहे बहुत सारे खिलाड़ी अपना पहला गेम, दूसरा गेम खेल रहे थे, लेकिन उनके प्रदर्शन को देखकर ऐसा कभी नहीं लगा कि यह अपनी पहली या दूसरी गेम खेल रहे है ।