इंग्लैंड में आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी 2017 के प्रारंभ होने के बाद भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ फाइनल मैच हार लिया था, उस समय के भारतीय कोच अनिल कुंबले ने विराट कोहली के साथ काम ना करने का अहम कदम उठाने का फैसला किया था।

बीसीसीआई ने पहले ही इस महान व्यक्ति को कोच की भूमिका के लिए आवेदन के लिए बुलाया था, लेकिन पहले एक साल इनको प्रशिक्षित तौर पर भारतीय टीम के कोच की भूमिका निभाने को कहा गया था, इस भूमिका पर पहले अनिल कुंबले को नियुक्त किया गया था।

भारतीय टीम के रूप में शामिल होने से पहले ही भारतीय टीम एक उज्जवल की ओर प्रकाश रही थी, शास्त्री ने भारतीय कोच की भूमिका पर कब्जा कर लिया था।

जबकि भारतीय टीम टेस्ट टीम मे नंबर वन पर है, एकदिवसीय रैंकिंग मे भारतीय टीम नंबर 2 पर है और भारत के पास विराट कोहली जैसा नंबर एक खिलाड़ी है जो एकदिवसीय और टी-20 रैंकिंग मे नंबर एक है।

न्यूज़ 18 ने इस बात का खुलासा किया है कि भारतीय टीम के युवा कप्तान विराट कोहली और रवि शास्त्री की सोच मिलती जुलती है । जिस वजह से भारतीय टीम के कोच और कप्तान जीत की ओर ही सोचते है।

कोच रवि शास्त्री और कप्तान विराट कोहली की बात करे तो इन दोनो के संबंध इतने मजबूत है कि यह दोनो एक ही राह में सोचते है । यानि बोलते है ना एक सोच वाले दो व्यक्ति मिल जाए तो परिणाम अच्छा ही होता है । ठीक ऐसे ही रवि शास्त्री और कप्तान विराट कोहली सिर्फ जीत की ओर ही सोचते है , यह दोनो दिग्गज हर कीमत पर जीतना चाहते है ।

कप्तान विराट कोहली ने हाल ही मे इटली मे जाकर अनुष्का शर्मा से शादी की है , यह शादी सोशल मीडिया मे इतनी खास बन गई है कि हर जगह इसी की चर्चा हो रही है । भारतीय कप्तान विराट कोहली अब साउथ अफ्रीका मे होने वाले दौरे मे नजर आएगे।