भारतीय स्पिनर रवीन्द्र जडेजा आज किसी परिचय के मोहताज नहीं हैं. एक साधारण परिवार में जन्मे जडेजा एक सेलिब्रेटी बन चुके हैं. रवीन्द्र के पास ख़ुद की 2 ऑडी कार हैं. वर्ष 2016 में जडेजा के ससुर ने उन्हें लगभग एक करोड़ की Q7 ऑडी कार गिफ्ट की थी. क्रिकेट में क़दम रखने से पहले जडेजा एक बेहद साधारण परिवार से थे, जिस कारण उनका बचपन काफ़ी कठिनाइयो में गुजरा.

पिता थे सिक्युरिटी गार्ड
Image result for r jadeja father
बाएं हाथ के दिग्गज ऑलराउंडर रवीन्द्र जडेजा का  जन्म गुजरात के एक बेहद छोटे से नवागाम में हुआ. जडेजा के पिताजी एक प्राइवेट कंपनी में सिक्युरिटी गार्ड थे, जबकि जडेजा की माँ एक हॉस्पिटल नर्स थी. जडेजा की घर की आर्थिक स्तिथि अच्छी नहीं था, जिस कारण जडेजा का क्रिकेटर बनने का सफ़र बेहद मुश्किलों वाला रहा हैं.

रवीन्द्र जडेजा की पिताजी उन्हें डिफेंस में भेजना चाहते थे, जबकि जडेजा की माँ की चाहत थी, कि बेटा क्रिकेटर बने. जडेजा ने माँ का सपना पूरा करने के लिए कड़ी मेहनत की.

जब जड़ेजा की क्रिकेट छोड़ने का फ़ैसला लिया

Image result for r jadeja mother
वर्ष 2005 में रवीन्द्र जडेजा की माँ का एक एक्सीडेंट हुआ, जिसमे उनकी माँ का निधन हो गया. इस घटना के बाद जडेजा इतने बुरी तरह से टूट गए, कि उन्होंने क्रिकेट छोड़ने का मन बना लिया.

इस कठिन दौर में जडेजा की बहन ने उन्हें संभाला. बहन के कहने पर ही जडेजा ने दोबारा क्रिकेट खेलना शुरू किया, जिसके कारण आज वह दुनिया के सर्वश्रेठ ऑलराउंडरों में शामिल हैं. जड़ेजा की 2 बहने है, जोकि जड़ेजा के रेस्टोरेंट का बिजनेस संभालती हैं.

इस तरह हुई जडेजा के क्रिकेट करियर की शुरुआत

Image result for r jadeja under-19 wc 2008
वर्ष 2002 में रवीन्द्र जडेजा को पहली बार सौराष्ट्र अंडर-14 टीम के लिए खेलने का मौका मिला. इस टूर्नामेंट में जडेजा ने महराष्ट्र के विरुद्ध बल्ले से 87 रन बनाने के साथ-साथ गेंदबाजी में 4 बल्लेबाजों का शिकार भी किया. महज 15 वर्ष की उम्र में जडेजा को सौराष्ट्र अंडर-19 टीम में चुना गया. इस दौरान जडेजा ने अपने करियर का पहला शतक लगाया.

अंडर-19 विश्वकप 2008 से बदली ज़िंदगी

Image result for r jadeja under-19 wc 2008
वर्ष 2005 में अंडर-19 क्रिकेट में दमदार प्रदर्शन करने के बाद रवीन्द्र जडेजा को अंडर-19 विश्वकप 2006 खेलने का मौका मिला. इस टूर्नामेंट में जडेजा ने ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध 4 और पाकिस्तान के विरुद्ध 3 विकेट झटके थे.

वर्ष 2008 में रवीन्द्र जडेजा को दोबारा अंडर-19 विश्वकप खेलने का मौका मिला. इस बार जडेजा विराट कोहली की कप्तानी वाली अंडर-19 का हिस्सा रहे. इस टूर्नामेंट में भारत चैंपियन रही थी. टूर्नामेंट में जडेजा ने 10 विकेट हासिल किये,जिसके बाद जडेजा ने कभी भी मुड़कर नहीं देखा.

जडेजा का अंतराष्ट्रीय करियर

Related image
अंडर-19 विश्वकप में शानदार प्रदर्शन के बाद रवीन्द्र जड़ेजा को फ़रवरी 2009 में श्रीलंका के विरुद्ध वनडे क्रिकेट से अंतराष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू का मौका मिला.

इसके बाद से रवीन्द्र जड़ेजा ने 136 वनडे मैचो में 35.87 की औसत से 155 विकेट हासिल किये हैं. जिस दौरान 5/36 जडेजा जा करियर बेस्ट रहा.

टेस्ट क्रिकेट में रवीन्द्र जड़ेजा ने 35 टेस्ट मैचो में 23.73 की शानदार औसत से 165 विकेट हासिल किये है. जडेजा टेस्ट क्रिकेट में 9 पारियों में 5 विकेट हासिल किये हैं.

रवीन्द्र जडेजा वनडे और टेस्ट क्रिकेट में नंबर रैंक हासिल करने वाले भारतीय भी हैं.

रवीन्द्र जडेजा की कुछ ख़ास फ़ोटो:- 

गिफ्ट में ससुर ने दी ऑडी कार

Image result for r jadeja ऑडी कार
पत्नी के साथ जडेजा
Image result for r jadeja father
जडेजा अपनी बहन के साथ
Image result for r jadeja father
अपनी बेटी के साथ जडेजा
Related image