भारत के दो ऐसे दिग्गज खिलाड़ी सुरेशं रैना और युवराज सिंह दोनो ही भारतीय टीम का हिस्सा नही है , इनका टीम मे चयन ना होने से बहुत से लोगों ने निराशा दिखाई थी । हम सबको पता है कि इन दोनो खिलाड़ियों ने भारत को कई बार बड़े मैचों मे वापसी दिलाकर एक बड़ी जीत दिलाई है। इन दोनो खिलाड़ियों की महत्तवता बहुत है पर प्रतियोगिताभी कुछ ज्यादा ही बढ़ गई हैँ जिस वजह से इन दोनो को टीम मे जगह नही मिल रही है ।

यह दोनो ही बल्लेबाज बाए हाथ से बल्लेबाजी करते है , इनके बाद तो भारतीय टीम मे बाएँ हाथ के बल्लेबाजो की कमी हो गई है । हम सब जानते है कि भारतीय टीम मे बाएँ हाथ के बल्लेबाजो ने बेहतर प्रदर्शन करके दिखाया हुआ है , जिसका इतिहास गवाह है । अब ऐसी स्थिति है कि हमारी टीम मे एक भी प्रमुख बाए हाथ का बल्लेबाज नही है ।

भारतीय टीम मे बाए हाथ के बल्लेबाजो की कमी खल रही है , हम सभी जानते है कि बाए हाथ के बल्लेबाज कभी भी किसी भी समय गेम को बदलने मे सक्षम है और इन्हे पता है कौनसी स्थिति मे कैसा खेलना है जिसकी बदौलत यह विपक्षी खेमे से मैच को छीन सकते है ।

युवराज सिंह और सुरेश रैना की बात की जाए तो यह दुनिया के बेहतरीन बल्लेबाजो मे से एक है , इन्होंने भारत के लिए कई मैच विजेता की पारिया खेली है । हम मानते है कि भारतीय टीम अच्छा खेल रही है पर फिर भी भारतीय टीम को बाए हाथ के इन दो बल्लेबाजो की कमी खल रही है ।

हाल ही मे गौरव कपूर के साथ ब्रेकफास्ट विद चैंपियंस शो मे विराट कोहली के साथ विस्तार मे बातचीत की थी । कोहली ने कहा कि – मौजूदा क्रिकेट मे अगर हमको तीनो फोर्मेट मे खेलना है तो , हमे अपने शरीर को फिट रखना होगा । अगर हम ट्रेनिंग नही करते तो , आप फिटेस्ट हो ही नही सकते । ऐसे मे बड़ी चोट लगने की  संभावनाए बड़ जाती है ।

इस बात के लिए कोहली ने एक उदाहरण दिया है , कोहली ने कहा है कि – अगर हम एक कैच को पकड़ने के लिए एक प्वॉइंट से दूसरे प्वॉइंट की ओर दौड़ लगाते है तो यह इस दौरान कितना समय लगाते है वह मायने लगता है । अगर एक सैकेंड की भी देरी होगी तो गेंद हाथ से लगकर छटक जाएगी और लोग कहेगे बहुत अच्छा प्रयास है । पर अगर आप फिट होते हो तो यह कैच आसानी से पकड़ सकते हो ।

आगे बढ़ते हुए विराट कोहली ने कहा कि अगर युवराज सिंह और सुरेश रैना को टीम मे वापसी करनी है तो , उन्हे अपनी फिटनेस का ध्यान रखना होगा ।