तिरुवंतपुरम मे हुए दिलचस्प मुकाबले मे भारत ने बाजी मार ली है , यह एक दिलचस्प मुकाबला था जो बारिश की वजह से आठ आठ ओवर का बन चुका था । एक समय तो ऐसा लग रहा था कि मैच हो ही नही पाएगा , परंतु इतनी बारिश होने के बावजूद भी तिरुवंतपुरम के ग्राउंड स्टाफ ने बहुत ही शानदार तरीके और तीव्रता से मैदान को खेलने लायक बना दिया । हम तिरुवंतपुरम के ग्राउंड स्टाफ को तहे दिल से धन्यवाद करते है कि उन्होने मैदान को खेलने लायक बनाया ।

PIC-AFP

भारत ने यह मैच 6 विकेट से जीता , बुमराह और चहल की शानदार गेंदबाजी की बदौलत भारत ने यह मैच आसानी से अपनी गिरफ्त मे कर लिया था। विराट कोहली भारत के पहले ऐसे कप्तान बन गए है जिन्होने न्यूजीलैंड के खिलाफ पहली टी-20 श्रंखला जीती है ।

हालाँकि यह मैच बारिश के कारण आठ आठ ओवर का हो गया था , केरल असोसिएशन के ग्राउंड स्टाफ ने भी अपनी मेहनत से मैदान को खेलने लायक बनाया , ताकि यह मैच जल्द ही शुरु हो सके और प्रशंसकों का दिल ना टूटे । जल्दी जल्दी मे खेले गए इस मैच से पहले ही तिरुवंतपुरम मैदान मे कुछ ऐसा घटित हुआ कि जिसे हम अपमान बोल सकते है , या नही भी ।

तीसरे और अंतिम टी-20 मैच से पहले केरल असोसिएशन यह भूल गई कि मैच से पहले राष्ट्रगान भी होना है , आप सबकी जानकारी के लिए बता दे कि विवाद बढ़ने से पहले ही केरल असोसिएशन ने अपनी गलती मान ली है । केरला क्रिकेट असोसिएशन के सेक्रेटरी जयेश जॉर्ज ने कहा है कि उनसे गलती हुई है , मैच अधिकारी जल्द से जल्द मैच शुरु करना चाहते थे , तो इसी हड़बड़ी मे हम दोनो देशो का राष्ट्रगान करवाना भूल गए है । जॉर्ज ने आगे बढ़ते हुए कहा कि हा हमारी गलती है , हम इसे कबूल करते है । मै आप लोगो से मांफी मांगता हूँ और आगे से ऐसा नही होगा ।