भारत और न्यूजीलैंड के बीच बुधवार को दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मे तीन टी-20 श्रंखला का आगाज होगा , दिलचस्प एकदिवसीय श्रंखला मे भारत ने 2-1 से न्यूजीलैंड को मात दे दी थी । टी-20 फोर्मेट कुछ अलग ही है , इस फोर्मेट मे बल्लेबाजो और गेंद्बाजो के खेलने का तरीका बिल्कुल ही बदल जाता है , वह अपने बेहद ही अच्छे प्रदर्शन को तलाशते है इस फोर्मेट मे ।

यह मैच भारत के तेज गेंद्बाज आशीष नेहरा के लिए यादगार रहेगा क्योकि आज उनका आखिरी मैच है इसके बाद वह क्रिकेट से विदाई ले लेगे । हालाँकि आशीष नेहरा का खेलना टीम के कप्ताम और टीम की मैंनेजमेंट पर निर्भर करता है तो अभि तक इनके एकादश मे आने पर कुछ् कह नही सकते।

टी-20 क्रिकेट की बात करे तो शुरू से ही न्यूजीलैंड का पलड़ा भारी रहा है , अब तक जितने भी टी-20 मैच इन दोनो टीम के बीच हुए है उसमे हमेशा भारत को मात मिली है , जो अपने आप मे एक अच्छा रिकॉर्ड नही है । भारत आज के मैच मे इस बात को नजर मे रखते हुए उतरेगी ओर कोशिश करेगी की इस इतिहास को बदल सके ।

आइए नजर डालते है उन 5 बड़े चैलेंज’ पर जिनका सामना करना पड़ेगा भारत को :-

  • शुरुआती बल्लेबाज रोहित

न्यूजीलैंड के खिलाफ अब तक भारत की शुरुआत अच्छी नही रही है , जिस वजह से न्यूजीलैंड शुरुआत से ही भारत पर हावी हो जाती है । रोहित शर्मा न्यूजीलैंड के खिलाफ टी-20 मैच मे हमेशा ही विफल रहे है , वैसे तो हम हिट मैंन कहते है रोहित शर्मा को तो अगर वह हिट मैंन के तौर पर बल्लेबाजी करे तो वह शुरु से ही न्यूजीलैंड पर दबाव बना सकते है जिसके बाद भारत के पास ओर सक्षम बल्लेबाज है जो आखिरी मे आकर अपना काम कर देगे ।

  • मिडील ऑर्डर

कुछ वरिष्ठ खिलाड़ियों के सन्यास लेने के बाद भारत का मिडिल ऑर्डर मे स्थिरता नही रही है , जिस वजह से अधिकतम मैचो मे भारत का मिडिल ऑर्डर विफल रहा है । न्यूजीलैंड के खिलाफ भी कुछ ज्यादा खास रिकॉर्ड नही है , न्यूजीलैंड के खिलाफ भी भारत का मिडिल ऑर्डर विफल रहा है और इस बार भारत को अपने मिडिल ऑर्डर को मजबूती से पेश’ करना पड़ेगा ।

  • स्पिन गेंदबाज

भारत हमेशा से ही न्यूजीलैंड के खिलाफ एक भूल कर देती है , वह है कि भारत न्यूजीलैंड की स्पेन गेंदबाजी को हल्के मे समझती है । न्यूजीलैंड की स्पिन गेंद्बाजी कोई साधारण गेंदबाजी नही है , इनके पास दो विश्व के अच्छे स्पिनरो मे से एक है , जिन्होने कई बार भारत की बल्लेबाजी को ध्वस्त किया हुआ है , एक का नाम है मिशेल सैंटनर और दूसरे का नाम है ईश सोढी । इन दोनो ही गेंदबाजो को भारत धैर्य से खेले , ओर इनकी खराब गेंद पर ही प्रहार करे ।

  • लेथम , टेलर और मुनरो

भारत के लिए इस टी-20 श्रंखला मे भारत को लेथम , टेलर और मुनरो की तिकड़ी के लिए कुछ हल ढूँढ़ना पड़ेगा , यह अपने करियर की बेहतरीन फोर्म मे चल रहे है और इनमे इतनी क्षमता है कि यह विपक्षी टीम से मैच को अपनी ओर लाकर रख दे । एकदिवसीय मुकाबलो मे भी हमने इनको इसी फोर्म मे देखा है तो इनके लिए भारत के गेंद्बाजो को कुछ सोचना पड़ेगा ।

  • भारत के गेंदबाज

भारत के गेंदबाज हाल ही मे अपनी बेहतरीन फोर्म मे चल रहे है , चाहे हम भारत के स्पिन गेंद्बाजो की बात कर ले या फिर तेज गेंदबाजो की । भारत के गेंदबाजो को न्यूजीलैंड को रोकने के लिए कसी हुई गेंदबाजी करनी होगी , यह ही सिर्फ एक रास्ता है जिससे न्यूजीलैंड के बल्लेबाजो को खामोश रखना होगा ।