3 मैचो की सीरीज के पहले मुक़ाबले में करारी हर झेलने के बाद भारतीय टीम अपनी रणनीति में बदलाव कर सकती हैं. भारतीय टीम की ताकत रही स्पिनर गेंदबाजी के विरुद्ध पहले वनडे में न्यूज़ीलैण्ड के बल्लेबाजों ने काफ़ी स्वीप शॉट खेले थे, जिसका काफ़ी फ़ायदा भी न्यूज़ीलैण्ड के बल्लेबाजों को मिला था. दुसरे वनडे से पहले भारतीय टीम के गेंदबाजी कोच भरत अरुण ने एक बड़ा बयान दिया हैं.

Image result for भरत अरुणभरत अरुण का कहना है, कि “दुसरे वनडे में हम अपनी रणनीति में बदलाव कर सकते हैं. हमने न्यूज़ीलैण्ड के बल्लेबाजों की विडियो देखी. विडियो में हमने देखा वे कैसे आसानी से गेंदों को स्वीप कर रहे थे. यही कारण है, कि दुसरे वनडे में हम निश्चित रूप से अलग रणनीति के साथ मैदान पर उतरेगे.”

आगे भरत अरुण ने कहा, “मुंबई वनडे में हम रणनीति के अनुसार खेले थे, हालाँकि अब सीरीज में 1-0 से पिछड़ रहे हैं और ऐसे में यह टीम के लिए सीखने के लिए काफ़ी अच्छा समय हैं, कि कैसे वे मुश्किल परिस्तिथि से निकलते हैं. न्यूज़ीलैण्ड टीम ने पहले वनडे में शानदार प्रदर्शन किया. न्यूज़ीलैण्ड ने पहले वनडे में कई बड़ी साझेदारी की और मैच जीता. सीरीज में पिछड़ने के बाद वापसी करना हमारे लिए एक चुनौती होगी, लेकिन पुणे में हम जीत दर्ज करके सीरीज में बराबरी कर लेगे.”

गेंदबाजी कोच भरत अरुण का मानना है, कि स्पिन गेंदबाजो पर दवाब है, हालाँकि पिछले कुछ समय से चहल और कुलदीप ने काफ़ी अच्छा प्रदर्शन किया हैं.

सीरीज बचाने का आख़िरी मौका

Image result for ind vs nz in odi3 मैचो की सीरीज के पहले मुक़ाबले में 6 विकेट की हार के बाद भारतीय टीम के पास दुसरे वनडे में सीरीज बचाने का आख़िरी का मौका होगा. अगर पुणे में भारतीय हारती है, तो यह पहला मौका होगा, जब न्यूज़ीलैण्ड की टीम भारत में भारत के विरुद्ध कोई द्विपक्षीय वनडे सीरीज जीतेगी. पहले वनडे में टॉम लैथम के शानदार शतक और रॉस टेलर ने 95 रनों की शानदार पारी की मदद से मेहमान न्यूज़ीलैण्ड ने भारत को 6 विकेट से हराया था.