क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर का कहना है, उन्हें विराट कोहली आक्रामकता की झलक उनके डेब्यू मैच से ही दिख गई थी. कोहली यह ख़ूबी अब पूरी टीम की ताकत हैं. विश्व क्रिकेट में अपनी आक्रमकता के लिए मशहुर विराट कोहली ने रविवार को अपने 200वे वनडे में न्यूज़ीलैण्ड के विरुद्ध 31वा शतक लगाया था, हालाँकि इस मैच में भारत को हार का सामना करना पड़ा था.

Image result for sachin tendulkar saidविराट कोहली के बारे में तेंदुलकर ने कहा, “टीम में डेब्यू के बाद से कोहली के रवैये में कोई बदलाव नहीं आया हैं. मुझे उनकी कह ख़ूबी(आक्रमकता) डेब्यू मैच से दिख गई थी, हालाँकि उनकी यह आदत टीम के कई खिलाड़ियों को पसंद नहीं थी.”

सचिन तेंदुलकर ने बताया टीम के कई खिलाड़ी इसके लिए कोहली की आलोचना करते थे.

सचिन तेंदुलकर ने कहा, “कोहली की आक्रमकता आज टीम इंडिया की ताकत हैं. समय के साथ इसमें ज्यादा बदलाव नहीं आया हैं, लेकिन उसके आसपास के काफी लोग बदल गए हैं. कोहली का रवैया सिर्फ उनकी शानदार बल्लेबाज़ी के कारण बदला और यह एक खिलाड़ी के लिए काफी महत्वपूर्ण है कि खिलाड़ी को खुद को जाहिर करने की आज़ादी मिले.”

Image result for sachin tendulkar and kohli
सचिन तेंदुलकर ने कहा, “मेरा मानना है, कि टीम में काफी संतुलन हैं. टीम में कई स्पिनर है, जो बल्लेबाज़ी भी कर सकते हैं. टीम के तेज गेंदबाज़ भी बल्लेबाज़ी कर सकते हैं. रविवार को भुवनेश्वर कुमार ने जो किया वो हम सबने देखा. हार्दिक पंड्या जैसे खिलाड़ी विदेशी दौरों पर टीम में संतुलन प्रदान करेगे.”

कोहली का अन्तराष्ट्रीय करियर
Image result for kohli
28 वर्षीय विराट कोहली ने वर्ष 2008 में वनडे क्रिकेट से अन्तराष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू किया था. तब से कोहली ने 60 टेस्ट मैचो में 49.55 की औसत से 4658 रन बनाये है, जिस दौरान कोहली ने 17 शतक और 14 अर्द्धशतक भी लगाये हैं. वनडे क्रिकेट में विराट कोहली ने 200 मैचो में 55.55 की औसत से 8888 रन बनाये है, जिस दौरान कोहली ने 31 शतक और 45 अर्द्धशतक भी लगाये हैं.

टी-ट्वेंटी क्रिकेट में विराट कोहली ने 52 मैचो में 52.91 की औसत से 1852 रन बनाये है, जिस दौरान कोहली ने 17 अर्द्धशतक लगाये हैं.