न्यूज़ीलैण्ड के विरुद्ध खेली जाने वाली टी-ट्वेंटी सीरीज के लिए हैदराबाद के तेज गेंदबाज़ मोहम्मद सिराज को भारतीय टीम में चुना गया हैं. यह पहला मौका है, तब तेज गेंदबाज़ सिराज को भारतीय टीम में जगह दी गई हैं. रणजी ट्राफी के पिछले सीजन में 47 विकेट लेने के बाद सिराज चयनकर्ताओ की नज़र में थे, और सही मौका देखते हुए उन्हें टीम में शामिल किया गया हैं. रणजी ट्राफी के पिछले सीजन में सिराज ने 47 विकेट लेकर सनसनी फैला दी थी.

मोहम्मद सिराज के शानदार प्रदर्शन के कारण ही हैदराबाद की टीम रणजी ट्राफी के नॉकआउट में जगह बनाई पाई थी. घरेलु क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन करने के बाद आईपीएल में सनराइजर्स हैदराबाद ने उन्हें 2.6 करोड़ की मोटी रकम देकर खरीदा था.
Image result for mohammed siraj
एक बेहद साधारण परिवार से संबंध करने वाले सिराज के लिए भारतीय टीम ने चुना जाना एक सपने से कम नहीं हैं. सिराज के पिताजी ऑटो चलाते हैं. आईपीएल 10 में 2.6 करोड़ की मोटी रकम मिलने के बाद सिराज की ज़िन्दगी में बड़ा बदलाव आया था. आईपीएल नीलामी ने उनका बेस प्राइस महज 20 लाख था, इसके बावजूद उन्हें 2.6 करोड़ रूपए देकर ख़रीदा गया था.

आईपीएल 10 में सिराज ने अपने प्रदर्शन से सभी को काफी प्रभावित किया था. सीजन में सिराज ने महज 6 मैचो में 10 विकेट हासिल किये थे. जिस दौरान उन्होंने गुजरात लायंस के विरुद्ध मैच में 4 विकेट भी हासिल किये.

सिराज ने किया भारत ए के लिए अच्छा प्रदर्शन
Image result for mohammed siraj india a
वर्ष 2017 में तेज गेंदबाज़ सिराज ने भारत ए की और से खेलते हुए शानदार प्रदर्शन किया हैं. हाल में न्यूज़ीलैण्ड के विरुद्ध खेले गए 3 अभ्यास मैच में भी सिराज ने 4 बल्लेबाजों का शिकार किया था. इसके आलावा दक्षिण अफ्रीका पर भी सिराज ने एक मैच में 5 विकेट हासिल किये थे. युवा तेज गेंदबाज़ सिराज ने अब तक 14 प्रथम श्रेणी मैचो में 53 विकेट लिए है, जबकि 12 लिस्ट ए मैचो में सिराज ने 20 विकेट झटके हैं.

आसान नहीं रहा भारतीय टीम में जगह बनाने का सफ़र
Image result for mohammed siraj family
23 वर्षीय तेज गेंदबाज़ सिराज आज भारत टी-ट्वेंटी टीम के हिस्सा है, हालाँकि उनका यह सफ़र बेहद कठिन रहा हैं. सिराज ने पिताजी ने कड़ी मेहनत के साथ ऑटो चलाकर सिराज का क्रिकेट बनने का सपना पूरा किया. सिराज के पिताजी ने अपने बेटे के क्रिकेट करियर के लिए वो हर संभव कोशिश की, जोकि एक आदर्श पिताजी कर सकता था, यही कारण है, कि आज एक साधारण परिवार का बेटा भारतीय टीम का हिस्सा हैं.

Image result for mohammed siraj said
आईपीएल 10 में 2.6 करोड़ की मोटी रकम मिलने के बाद सिराज ने एक इंटरव्यू के दौरान कहा था, कि “ये रकम उनके और परिवार के लिए काफी बड़ी रकम हैं, उन्हें क्रिकेट करियर के दौरान पहला इनाम 500 रूपए मिला था.”

सिराज अपने माता-पिता के लिए खरीदना चाहते है घर

क्रिकेट में सफ़लता के बाद सिराज के दिमाग में पहली बात यह थी, कि वह पिताजी और माता जी के लिए एक अच्छे इलाके में घर खरीदना चाहते हैं. सिराज का कहना है, कि “मुझे आज भी याद है, कि मैंने क्रिकेट खेलते हुए जो भी कमाई की थी. यह क्लब का मैच था और मेरे मामाजी टीम के कप्तान थे.”

“मैंने इस मैच में 25 ओवरों की गेंदबाज़ी के दौरान महज 20 रन देकर 9 विकेट लिए थे. इस मैच के बाद मेरे मामाजी इतने खुद थे, कि उन्होंने इनाम के रूप में मुझे 500 रूपए दिए थे.”

माता-पिता के लिए घर खरीदने की चाहत पर सिराज ने कहा, “मेरे पिताजी ने काफी मेहनत की हैं. वह ऑटो चालते थे, और उन्होंने घर की आर्थिक स्तिथि का असर कभी मेरे क्रिकेट पर नहीं पड़ने दिया. गेंदबाज़ी जूतों को कीमत काफी होती है, मेरे पिता मेरे लिए हमेशा अच्छे जूतें लाते थे. मैं उनके लिए एक अच्छे इलाके में घर ख़रीदना चाहता हूँ.”