भारतीय क्रिकेट अब विश्व क्रिकेट मे एक नया मोड़ ले चुका है , भारत विश्व की सबसे बेहतरीन टीम बन चुकी है जिसमे क्षमता है कि अन्य बेहतरीन टीमो को हरा सके । भारत की इस टीम मे वरिष्ठ खिलाड़ियों से ज्यादा युवा खिलाड़ी है , जिन्होंने अपने शानदार प्रदर्शन से विश्व जगत को प्रभावित किया है ।

किसी भी टीम के लिए शुरुआती बल्लेबाज़ बहुत अहम होते है , शुरुआती बल्लेबाज ही टीम के स्कोर को पहाड़ बनाने मे मदद कर सकते है और शुरुआती बल्लेबाज ही ऐसे बल्लेबाज होते है जिनकी शुरुआत पर सब कुछ निर्भर करता है । अभी भारत के शुरुआती बल्लेबाज रोहित शर्मा और शिखर धवन है यह दोनो ही विस्फोटक बल्लेबाज है , इन्होने अपनी पारियो से विपक्षी खेमे मे कई बार हल चल मचाई हुई है ।

दूसरी ओर हम बात करते है पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की यह भारत की मौजूदा टीम के सबसे वरिष्ठ खिलाड़ी है , इन्होने भारत के लिए कई उपलब्धियां हासिल की है और यह विश्व के बेहतरीन कप्तानो मे से एक रहे है । महेंद्र सिंह धोनी बल्लेबाजी करने छठे नंबर पर आते है , इनका यह क्रमांक सबको अजीब लगता है , क्योँकि इनमे क्षमता है कि ऊपर बल्लेबाजी करके यह दूसरी टीम को ध्वस्त कर सके ।

हालाँकि क्रिकेटर कॉमेंटेटर के साथ साथ कुछ पूर्व क्रिकेटर भी है जिनका मानना है कि महेंद्र सिंह धोनी को ऊपर आकर बल्लेबाजी करनी चाहिए । इन्होंने दबाव मे आकर कई बेहतरीन बल्लेबाजी की है , यह सबके पसंदीदा क्रिकेटर है और क्रिकेट पंडितों और प्रशंसकों का भी यही मानना है कि अगर यह ऊपर आकर बल्लेबाज़ी करेगे तो यह ओर बेहतर खेल सकते है । इस का उदाहरण हमने देखा था जब धोनी ने विश्व कप 2011 फाइनल मे युवराज सिंह को पहले ना भेजकर खुद बल्लेबाजी करने आए और भारत को आसानी से जिताया जिसकी वजह से भारत के हाथ मे विश्व कप आया ।

भारतीय पूर्व कप्तान सौरव गांगुली का मानना है कि टी-20 फोर्मेट मे महेंद्र सिंह धोनी को पारी की शुरुआत करनी चाहिए , धोनी तेज गेंदबाजो को अच्छा खेलते है और एक टीम अपने शुरुआती बल्लेबाजो से जो उम्मीद करती है वही शुरुआत धोनी दे सकते है । यह सेट होने मे समय लगाते है पर एक बार सेट होने बाद यह अपनी लय पकड़ ले तो सभी जानते है कि गेंद और बाउंड्री दोनो मे कोई अंतर नही रहेगा | अगर धोनी भारत के लिए शुरुआत करे तो भारत की टी-20 फोर्मेट मे जीत की दर ओर बढ़ जाएगी ।

आगे गांगुली ने कहा कि मै जानता हू कि यह एकदिवसीय मे छठे नंबर पर बल्लेबाजी करते है परंतु अगर यह टी-20 मे पहले चार बल्लेबाजो मे से एक बने तो , पारी का मजा ही कुछ ओर होगा । वैसे मै तो इन्हे पारी की शुरुआत करते देखना चाहता हूँ , और अगर यह शुरुआत करते है तो इनमें शतक लगाने की भी क्षमता है ।