भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच हुआ कल एकदिवसीय मैच बड़ा ही दिलचस्प रहा ,भारत नी ऑस्ट्रेलिया के चारो खाने पस्त कर दिए । भारत ने ऑस्ट्रेलिया को हराकर श्रंखला मे 3-0 की बढ़त ले ली है , हालाँकि उम्मीद की जा रही थी कि ऑस्ट्रेलिया अपने करो या मरो मैच मे उंदा प्रदर्शन करेगी पर इन्होने प्रदर्शन तो किया उंदा नही किया बस ।

ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए ऑस्ट्रेलिया के शुरुआती बल्लेबाजो ने शानदार बल्लेबाजी से भारत के शुरुआती गेंदबाजि को ध्वस्त कर दिया था । आरोन फिंच ने तो अपने शतक से ऑस्ट्रेलिया को मजबूत स्थिति मे लाकर खड़ा कर दिया था , जिसके बाद ऑस्ट्रेलिया के किसी बल्लेबाज ने कुछ खास योगदान नही दिया जिसकी बदौलत ऑस्ट्रेलिया का स्कोर इतना अधिक नही बन पाया, जबकि जब आरोन फिंच क्रीज़ पर मौजूद थे तब ऐसा लग रहा था जैसे आज ऑस्ट्रेलिया 350 का स्कोर पाr कराएगी ।

भारत के गेंदबाजि ने आखिरी ओवरो मे काफी किफायती और सटीक गेंदबाजी की जिसकी बदौलत से ऑस्ट्रेलिया को 300 से अधिक स्कोर नही बनाने दिया । इसके बाद भारत ने अपनी बल्लेबाजी शुरु की और भारत की शुरुआती साझेदारी 129 रन की बनी , जिससे भारत की एक अच्छी शुरुआत हुई । दोनो शुरुआती बल्लेबाजो के आउट होने पर क्रीज़ पर कप्तान कोहली और हार्दिक पंड्या मौजूद थे ।

हार्दिक पंड्या को रवि शास्त्री (भारतीय कोच) के कहने पर नंबर चार पर भेजा गया था , रवि शास्त्री का यह निर्णय बिल्कुल सही साबित हुआ और हार्दिक पंड्या ने 72 गेंदो पर 78 रन बनाकर एक मैच विजेता पारी खेली और अंत मे मैच को भारत के पक्ष मे लाकर खड़ा कर दिया था । जिसके बाद मनीष पांडे और धोनी ने अंतिम रन बनाकर भारत को जीत दिलाई और श्रंखला भी जितवाई ।

हार्दिक पंड्या की बात करे तो मैच के अंत मे यह मैंन ऑफ द मैच घोषित किए गए , जिसके बाद से हार्दिक की सारे विश्व मे प्रशंसा हो रही है ।इन दिनो वर्तमान खिलाड़ियों के साथ साथ पूर्व खिलाड़ी भी इनकी प्रशंसा करने से पीछे नहि हट रहे , ऐसे मे पूर्व कप्तान कपिल देव जो भारत के दिग्गज ऑल राउंडर रह चुके है , इन्होने भी पंड्या की प्रशंसा की ।

हाल ही मे एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कपिल देव ने खुलकर हार्दिक पंड्या के बारे मे बोले – “हार्दिक पंड्या मुझसे बेहतर खिलाड़ी है , पर उन्हे अभी भी कड़ी मेहनत करनी पड़ेगी , अभी उनपर दबाव बनाने की जगह इन्हे मेहनत के लिए बोलना चाहिए , आगे बढ़ते हुए कपिल देव ने कहा कि इनके पास वह सारे गुण है जिससे यह प्रतिभाशाली खिलाड़ी बन सके ।

इनके बाद द वाल कहलाने वाले राहुल द्रविड़ ने भी इनकी जमकर प्रशंसा की , और कहा कि हार्दिक मे इतनी प्रतिभा है कि वह हर परिस्थिति मे खेलना जानते है , सिर्फ यह अपना स्वभावी खेल ही नही खेलते बल्कि हर प्रकार का खेल सबको दिखाते है ।

आइए सुनते है कपिल देव ने कैसे हार्दिक पंड्या की प्रशंसा की :-