भारत और ऑस्ट्रेलिया की श्रंखला का जैसा हम अनुमान लगा रहे थे वैसी ही श्रंखला चल रही है , आक्रामकता के साथ साथ दिलचस्प हो रही है यह श्रंखला । श्रंखला से पहले यह अनुमान लगाया जा रहा था कि यह श्रंखला ऑस्ट्रेलिया और विराट कोहली के खिलाफ है ।

कोहली अकेले मे इतनी क्षमता है कि ऑस्ट्रेलिया की सारी आक्रामकता का जवाब दे सकते है , ऐसा ही पहलू हमने दूसरे मैच मे देखा जब विराट कोहली ने स्टोइनिस की गेंदबाजी पर रन चुराया और इसी गेंद पर वेड घायल हो गए कीपींग के दौरान ।

इसी दौरान वेड ने गेंद को छोड़ दिया था और विराट ने इसका फायदा उठाकर एक और रन चुराया , जिससे वेड और विराट मे कुछ गरमा गरमी हो गई । इन दोनो की बातचीत क़े दोराना भारतीय कप्तान विराट कोहली वेड पर हावी होते हुए दिखे ।

पूर्व ऑस्ट्रेलियन गेंदबाज स्टॉर्ट क्लार्क,जिन्होने एक समय पर अपनी गेंदबाजी से भारतीय बल्लेबाजो को परेशान किया हुआ था ,उन्होने इस विवाद पर अपनी टिप्पणी की है । इन्होंने इस विवाद पर कहा कि यह बहुत ही खराब विवाद है जिस पर भारत के कप्तान और वेड आपस मे बहस कर रहे थे , हालाँकि इन्होने स्टोइनिस की सराहना की क्योँकि वह अपनी टीम के खिलाड़ी वेड का साथ दिया |

आगे बढ़ते हुए स्टॉर्ट क्लार्क’ ने विराट कोहली का साथ देते हुए कहा कि वेड घायल हो गए थे , इस बात का भारतीय कप्तान को पता था या नही इस बात पर कुछ नही कह सकते । विराट कोहली से बहस करना मतलब की आप उनकी क्षमता पर खेल रहे हो , विराट कोहली ऐसे विवादों से ओर मजबूती के साथ खेलते है ।

ऑस्ट्रेलिया को नसीयत देते हुए स्टॉर्ट क्लार्क ने बोला कि विराट कोहली ऐसे व्यक्ति है जो अपनी टीम क़े मामले मे किसी से भी भिड़ सकते है और फिर पीछे हटने का नाम नही लेते है । यह विवाद सिर्फ यही नही टला , जब वेड कुलदीप यादव का शिकार हुए तब विराट कोहली वही स्लिप पर खड़े थे तो कोहली ने वेड को अच्छे से अलविदा कहा ।

 

क्लार्क ने कहा कि हमे भारतीय कप्तान से लड़ना नही चाहिए क्योँकि वह इन्हीं लड़ाइयों से ओर मजबूत होते है और अपने प्रदर्शन को और बेहतर बनाकर विपक्षी खेम को परास्त कर देते है ।