भारत और ऑस्ट्रेलिया की श्रंखला का आगाज़ हो चुका है , जिसका सबको बहुत समय से इंतजार था । पहले ही मैच में भारत ने श्रंखला जीतने के लिए अपनी दावेदारी पेश कर दी है , जिसे देख भारत के करोड़ों फैन्स ने धूम धाम से जश्न मनाया । भारत के इस संपूर्ण प्रदर्शन से भारत खेमे मे और भारत कईं सारे फन्स बहुत खुश नज़र आए ।

भारत ने अपनी जीत का सिलसिला वही से शुरू किया जहां से श्रीलंका के खिलाफ श्रंखला मे छोड़ा था , भारत ने जीत की गति को उसी तरह से रखा जैसे श्रीलंका के खिलाफ हर मैच मे थी । भारत के लिए एक अच्छी शुरूआत मतलब ऑस्ट्रेलिया खेमे मे चिंता है ,ऑस्ट्रेलिया अपनी बल्लेबाजी से नाखुश रही और स्टीव स्मिथ ने अपनी गलतियों को सुधारने के लिए ऑस्ट्रेलिया खिलाड़ियों को फट्कार लगाई ।

दोनो ही टीमो के कप्तान बेहद आक्रामक है चाहे हम बल्ले से ले ले या फिर ज़ुबान से , यह दोनो कप्तान एक दूसरे के कट्टर प्रतिद्वंद्वी है जो सभी जानते है । भारत ऑस्ट्रेलिया के पहले मैच मे भी कुछ ऐसा ही देखने को मिला यह थोड़ा सा मजेदार और दूर से छोटा सा टकराव था , जिसे देख आपकी हँसी नही रुक पाएगी ।

पहले मैच मे भारत ने अपनी लड़खड़ाती पारी को सम्भालते हुए 250 पार का स्कोर लगाया , जिसके दौरान एक वाक्या हुआ जब भुवनेश्वर कुमार क्रीज पर थे और वह ताबड़तोड़ बल्लेबाजी कर रहे थे । भुवनेश्वर कुमार की बल्लेबाजी के दौरान ऑस्ट्रेलिया के गेंदबाज मार्कस स्टोइनिस ने गेंद करवाई जिसे भुवनेश्वर कुमार ने खेलने का प्रयत्न किया जिस पर गेंद उनके पैड से टकरा गई ।

परंतु अंपायर ने भुवनेशवर कुमार को नोट आउट करार दिया , इसे देख ऑस्ट्रेलिया खेमे ने डीआरएस लेने के लिए अंपायर को बोला , जिससे अंपायरने थर्ड अंपायर को रेफरल दे दिया । जब थर्ड अंपायर ने वीडियो की मदद से जांच की तो उन्होंने पाया कि गेंद पहले भुवी के बल्ले से टकराई जिसके बाद पैड पर लगी , और फिर थर्ड अंपायर ने इस निर्णय को भुवी के पक्ष मे दिया ।

ऑस्ट्रेलिया खेमा इस डीआरएस के लिए इतने आत्मविश्वास मे था कि ऐसे लगा जैसे अंपायर ने गलत फैसला सुनाया है , इस वाकया को देख विराट कोहली ने ऑस्ट्रेलिया कप्तान की खिल्ली ड्रेसिंग रूम से ही उड़ा डाली । आइए देखते है कैसे विराट कोहली ने इनकी खिल्ली उड़ाई :-