5 मैचो की सीरीज के पहले वनडे में भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया को 26 रनों से हराया. भारतीय टीम के उपरीक्रम के बल्लेबाजों के नाकाम होने के बावजूद भारतीय टीम ने 50 ओवरों में 281/7 का स्कोर बनाया. भारत की ओर से युवा आल-राउंडर हार्दिक पंड्या ने 83 जबकि धोनी ने 79 रनों की अहम पारी खेली.

जवाब में, बारिश से प्रभावित मैच में ऑस्ट्रेलिया को 21 ओवरों में 165 का लक्ष्य मिला, हालाँकि ऑस्ट्रेलिया की टीम 21 ओवरों में 137/9 का स्कोर ही बना पायें.

पहले वनडे में बने रिकार्ड्स पर एक नज़र:-
India v Australia
i) मैच के दौरान भारत और ऑस्ट्रेलिया के कप्तान विराट कोहली और स्टीव स्मिथ ने मिलकर केवल 1 रन बनाया. जोकि ऑस्ट्रेलिया और भारत के बीच खेले वनडे मैच में दोनों कप्तानो द्वारा बनाया गया सबसे कम स्कोर है. इससे पहले वर्ष 1981 सिड्नी, और वर्ष 1998 कानपूर वनडे में भारत-ऑस्ट्रेलिया के कप्तान केवल 3 रन बनाने में कामयाब रहे थे.

ii) भारतीय टीम के नंबर 3 के बल्लेबाज़ विराट कोहली और नंबर 4 के बल्लेबाज़ मनीष पाण्डेय शून्य पर आउट हुए. यह भारतीय क्रिकेट इतिहास में केवल चौथा मौका था, जब भारत के लिए नंबर 3 और 4 के बल्लेबाज़ शून्य पर आउट है. इससे पहले वाकया वर्ष 2007 में ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध, 2010 में श्रीलंका के विरुद्ध और 2013 में इंग्लैंड के विरुद्ध देखने को मिला था.

iii) अन्तराष्ट्रीय क्रिकेट में लगातार 10 जीत दर्ज करने वाले विराट कोहली पहले भारतीय कप्तान बन गए हैं. इससे पहले वर्ष 2013 में लगातार 9 अन्तराष्ट्रीय मैच जीते थे.

iv) भारतीय टीम ने शुरूआती 3 विकेट महज 11 रन गवाए. 3 विकेट गवाने के बाद घरेलु वनडे में यह भारतीय टीम का दूसरा सबसे कम स्कोर है. इससे वर्ष 2005 में हैदराबाद वनडे में भारतीय टीम ने दक्षिण अफ्रीका के विरुद्ध महज 5 रनों पर 3 शुरूआती विकेट गवाए थे.

v) चेन्नई वनडे में एमएस धोनी ने अन्तराष्ट्रीय क्रिकेट में 100वा अर्धशतक लगाया. धोनी ऐसा करने वाले विश्व के 14वे जबकि भारत के चौथे खिलाड़ी हैं.

vi) मैच के दौरान भारत के नंबर 6 और उससे नीचे के बल्लेबाजों ने मिलकर 194 रन बनायें, जोकि वनडे क्रिकेट में भारत के नंबर 6 या उससे नीचे के बल्लेबाज़ी द्वारा बनाये गए दुसरे सबसे ज्यादा रन हैं. इससे पहले वर्ष 1983 वर्ल्डकप में जिम्बाब्वे के विरुद्ध 239 रन बनायें थे.

vii) 11 या उससे कम रनों पर 3 विकेट गवाने के बाद 281/7 का स्कोर किसी भी टीम दूसरा सबसे बड़ा स्कोर हैं. इससे पहले ऑस्ट्रेलिया ने 2006 में श्रीलंका के विरुद्ध 10/3 के बाद 368/5 का स्कोर बनाया था. इसके आलावा 2004 में भारत ने महज 4 रनों पर 3 विकेट गवाने के बाद जिम्बाब्वे के विरुद्ध 280/7 रन बनाये थे.

viii) ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध जीत हासिल करते हुए, भारत का 281 का स्कोर का घरेलु मैदान दूसरा सस्बे छोटा स्कोर हैं. इससे पहले 1986 में अहमदाबाद वनडे में 50 ओवर में 193 रन बनाने के बावजूद भारत को जीत मिली थी.

ix) मैच में पंड्या ने 83 रन और 2 विकेट हासिल किये. 2011 के बाद यह पहला मौका है, जब किसी भारतीय खिलाड़ी ने 83 या उससे अधिक रन बनाने के आलावा 2 या उससे अधिक विकेट लिए हैं. वर्ष 2011 में युवराज सिंह ने वेस्टइंडीज के विरुद्ध यह कारनामा किया था.