श्रीलंका के 2017 के भारत दौरे को श्रीलंका क्रिकेट के इतिहास में सबसे अधिक एकतरफा विध्वंस के रूप में याद किया जाएगा। यह 3-मैच टेस्ट सीरीज़ से शुरू हुआ, जिसमें भारत ने श्रीलंका को खेल के सभी तीनों विभागों में पराजित किया और टेस्ट क्रिकेट में श्रीलंका का घर में सफाया करने वाला पहला दौरा बन गया।

टेस्ट सीरीज में एक नैतिक हार के बाद, श्रीलंका के क्रिकेट प्रशंसकों को एकदिवसीय अंतर्राष्ट्रीय (वनडे) सीरीज़ में उनकी टीम द्वारा बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद थी। लेकिन, कहानी दोबारा दोहराई गई दूसरे एकदिवसीय मैचों में 6 विकेट लेने वाले अकिला दानंज्या के अलावा, श्रीलंका का कोई भी अन्य खिलाड़ी खड़ा नही रहा ।

एकदिवसीय श्रृंखला के सारे मैचों में श्रीलंका के निराशाजनक प्रदर्शन से श्रीलंका की मीडिया ने श्रीलंकाई खिलाड़ियों को चारो ओर से घेरा हुआ है । इस श्रृंखला मे भारत ने श्रीलंका को एक भी मैच जीतने नही दिया । फलस्वरूप श्रीलंका को मुँह की खानी पड़ी ।

भारत के सफल ओपनर रोहित शर्मा जिन्होंने अपने प्रदर्शन से पहले भी श्रीलंका के गेंदबाजों के छक्के छुडाए थे , कल इन्होने एक ऐसा रिकॉर्ड बनाया जिसका हम सोच भी नही सकते थे । यह रिकॉर्ड आज तक किसी भी भारतीय ने श्रीलंका टीम के खिलाफ नही बनाया है ।

हालाँकि रोहित शर्मा पाँचवें एकदिवसीय मैच मे कुछ खास नही कर पाए , परंतु तब भी इन्होने इस 5 मैचो को श्रृंखला में एक रिकॉर्ड बना दिया है । रोहित शर्मा पहले ऐसे भारतीय बल्लेबाज बने जिन्होंने श्रीलंका मे खेली गई श्रृंखला के दौरान 300 रन बनाए ।

इससे पहले आज तक किसी भारतीय ने ऐसा कीर्तिमान हासिल नही किया है । रोहित शर्मा ने श्रृंखला के दौरान कुल 5 मैचो में 75.50 की औसत से 302 रन बनाए जिसमे दो शतक और  एक अर्धशतक भी शामिल है । इनके अलावा इंग्लैंड के कप्तान जो रूट इन्होंने भी 300 रन बनाए है ।

श्रृंखला के आखिरी मैच मे श्रीलंका ने भारत के सामने 239 रनो का लक्ष्य रखा था । इसके जवाब में भारत ने 46.3 ओवरों मे मैच का परिणाम सबके सामने लाकर खड़ा कर दिया । भारत ने यह मैच 6 विकेट से जीता और श्रृंखला पर कब्जा किया ।