वेस्ट इंडीज़ क़े दिग्गज बल्लेबाज़ किएरोन पोलार्ड जों 30 वर्ष के है । इन्होने अपना पहला एक्दिवसिये मैच 10 अप्रैल 2007 को साउथ अफ़्रीका के खिलाफ खेला था , ओर अपना टी-20 का पहला मैच 20 जून 2008 को ऑस्ट्रेलिया क़े खिलाफ खेला था । तब से इन्होंने क्रिकेट जगत् में अपनी छाप छोड़ी हुई है । अब इन्हें दुनिया के पॉवर हिटर में से एक खिलाड़ी माना जाता है ।12IN_LPN_POLLARD_2104683f

पोलार्ड ने भारत की टी-20 प्रीमियर लीग मे भी अपना हाथ जमाया हुआ है । इस लीग से पोलार्ड को आगे बढ़ने में बहोत मदद मिलीं । और पोलार्ड ने अंतरराष्ट्रीय  स्तर पर भी अपना कब्जा कर लिया हैं। पोलार्ड भारतीय प्रीमियर लीग में मुंबई इंदिअंस कि तरफ सें खेलते है ।

जब हम टी-20 का नाम लेते है तो सबसे पहले इनका नाम हमारी जुबान पर आता है । यह दुनिया जगत में टी-20 क्रिकेट क़े सबसे महँगे क्रिकेटर में से एक है । जब ह्म टी-20 कि बात करते है तो हमें बारबाडोस और स्त. लुसिआ स्टार्स का मैच याद आता है जिसमें पोलार्ड ने अपने टी-20 की सबसे बेहतरीन इन्निंग खेली थीं । इन्होंने अपना क्रूर रूप दिखाकर 35 बाल्स मे 83 रन बनाये थें । पोलार्ड ज्यादातर नंबर 5 पर बल्लेबाज़ी करतें हैं परंतु इस मैच में वह नंबर 4 पर बल्लेबाज़ी करने आयें और इन्होंने दूसरी टीम के छक्के छुड़ा दिये ।kieron pollard

पोलार्ड ने अपनी पहली बॉल से ही रन बनाना शुरु कर दिया , जिससे सामने वाली टीम क़े गेंदबाजों की लय बिगड़ गयी और वह पोलार्ड क़े स्ट्रॉन्ग ज़ोन में बॉल फैंक्ते रहे जिसका परिणाम उन्होंने चौके और छक्को से भुगतना पड़ा । सारे खिलड़ी गेंद को सिर्फ बाहर जाते हुए देख रहे थें । ऐसा लग रहा था मानो पोलार्ड सारे खिलाड़ियों के साथ मजाक कर रहे हो । अंग्रेजि मे एक कहावत है “ SPECTATORS ARE FIELDERS AND FIELDERS ARE SPECTATORS” अर्थात  “सारे खिलाड़ी सिर्फ दर्शक बने रह गये और दर्शक सारे खिलड़ी बन गये” ।

वीडियो:

brute power by Pollard!#CPL17 #SLSvBT #biggestpartyinsport

CPL T20 发布于 2017年8月10日