महेंद्र सिंह धोनी का नाम आज एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के शीर्ष बल्लेबाजों ने गिना जाता है। पिछले एक दशक में धोनी ने अलग-अलग नंबर पर बैटिंग कर एक काबिल क्रिकेटर होने की मिसाल पेश की है। उन्होंने इन इंडिया के मिडल ऑर्डर  को मजबूती प्रदान की है। चाहे कितनी भी कठिन परिस्थितियां, क्यों न हो धोनी ने टीम इंडिया को जीत की राह पर पहुंचाया है।

Australia v India: Carlton Mid ODI Tri Series - Game 2

विश्व में धोनी को यूं ही नहीं बैस्ट मैच फिनिशर का दर्जा दिया है। छक्का लगाकर सबसे ज्यादा मैच खत्म करने का रिकॉर्ड भी धोनी के ही नाम दर्ज है।

हाल ही में वेस्टइंडीज दौरे के तीसरे वनडे मैच के दौरान धोनी ने एक बार फिर साबित कर दिखाया कि वह दबाव में भी बेहतरीन प्रदर्शन कर अपनी टीम को जीत दिलाने का दमखम रखते हैं। मैच के दौरान भारत के तीन विकेट जल्द गिर जाने के बाद सभी की उम्मीदें अब केवल धोनी पर टिकी थी। धोनी ने भारतीय प्रशंसकों को मायूस नहीं होने दिया और मात्र 70 गेंदों में 78 रन की बेहतरीन पारी खेली। इस दौरान अजिंक्य रहाणे और केदार जाधव ने भी उनका साथ बखूबी निभाया और भारत को जीत दिलाने में अहम भूमिका अदा की।

481658-ms-dhoni-sunglass-look

हम सभी जानते हैं कि धोनी किसी भी समय मैच की काया पलट करने की हिम्मत रखते हैं। अपनी बैटिंग के दौरान एक समय वह बिशू की बॉल को हिट करने के लिए काफी आगे बढ़ गए थे, लेकिन बॉल को हिट करने से चूंक गए। एक कुशल खिलाड़ी होने के नाते वह बहुत ही तेजी से क्रीज़ में वापस आ गए और स्टंप आउट होने से बच गए।

एक विकेटकीपर होने के नाते उन्होंने गेंदबाज की चाल भांप कर उसे नाकाम कर दिया। भारत के अधिकतर युवा इसीलिए धोनी को अपना आदर्श मानते हैं। धोनी ने अपने करियर में कई बेहतरीन इनिंग्स खेली है, और उस कड़ी में अब यह पारी भी शामिल हो गई हैं।

GIF: MS Dhoni Shows How To Avoid Stumping While Batting