हाल ही में हुई चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल मुकाबले में जब पांड्या और जडेजा क्रीज़ पर मौजूद थे, तभी दोनों के बीच गलतफहमी के कारण पांड्या रन आउट हो गए।

panda

पांड्या उस समय काफी अच्छा खेल रहे थे। आलोचकों ने उनके रन आउट होने का गुस्सा जडेजा पर निकाला और सोशल मीडिया पर जडेजा को काफी भला-बुरा भी कहा। पाकिस्तान से करारी हार का सारा दोष लोगों ने जडेजा पर डाल दिया। भारतीय प्रशंसकों के लिए वह क्षण एक कड़वी याद बनकर रह गया।

वेस्ट इंडीज़ दौरे पर गए हार्दिक पांड्या से जब एक इंटरव्यू में उनके रन आउट होने के बारे में पुछा गया तो उन्होंने कहा, “उस समय मुझे भी बुरा लगा था, लेकिन सच कहूं तो वह भी केवल तीन मिनट के लिए। ड्रेसिंग रूम में जाकर मुझे हंसी आ रही थी। साथ ही अन्य खिलाड़ी भी मुझे देखकर हंसने लगे थे।”

jaddu

रवींद्र जडेजा ने इस मुद्दे पर अपनी चुप्पी तोड़ते हुए सोशल मीडिया पर उनकी आलोचना कर रहे लोगों को बेहद ही शानदार जवाब दिया। जडेजा ने कहा कि जो लोग क्रिकेट को समझते है, उन्हें पता हैं कि ऐसा खेल में कई बार होता है। कोई भी ऐसा जान-बूझकर नहीं करता। आगे उन्होंने कहा, “केवल क्रिकेट के सच्चे प्रशंसक यह समझ सकते हैं। हर कोई अपने देश के लिए अच्छा खेलना चाहता है। क्रिकेट में रन आउट होना बेहद ही आम है। आलोचकों को जो कहना है, वह कहते रहें। इस बारे में मैं ज्यादा नहीं सोचता। मैं उनके लिए नहीं खेलता। उनके विचार हर सीरीज़ के बाद बदल जाते है।”